Sports

कराची : पाकिस्तान के मुख्य कोच और मुख्य चयनकर्ता मिसबाह उल हक ने आलोचकों को जवाब देते हुए कहा कि उनके पास टीम की तकदीर रातोंरात बदलने के लिए कोई जादू की छड़ी नहीं है लेकिन अगर कुछ समय में वह नतीजे नहीं दे सके तो पद छोड़ देंगे। पूर्व कप्तान मिसबाह ने लाहौर में एक प्रेस कांफ्रेंस में श्रीलंका के खिलाफ दो टेस्ट मैचों की श्रृंखला के लिए 16 सदस्यीय टीम का ऐलान किया।

उनसे पाकिस्तान के हालिया खराब प्रदर्शन के बारे में कई सवाल दागे गए। मिसबाह ने एक सवाल के जवाब में कहा, ‘आप क्या चाहते हैं। आपको समझना होगा कि मेरे पास कोई जादू की छड़ी नहीं है। खिलाड़ियों को अच्छा प्रदर्शन करने के लिए समय देना होगा और एक प्रक्रिया का सामना करना होगा।' उन्होंने कहा कि पाकिस्तानी टीम अगर अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकी तो वह पद छोड़ देंगे।

उन्होंने कहा, ‘मैं भी यहां बैठकर पाकिस्तान क्रिकेट की बर्बादी का तमाशा नहीं देखना चाहता। किसी को यह पसंद नहीं होगा। मैं अपनी ओर से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की कोशिश करूंगा।' उन्होंने कहा, ‘मेरे इरादे नेक हैं और मैं टीम को बुलंदियों तक ले जाना चाहता हूं। मैं दूसरे चयनकर्ताओं और प्रांतीय टीमों के मुख्य कोचों से बात करके ही फैसले लूंगा। मेरा ‘वन मैन शो' पर भरोसा नहीं है।' 

.
.
.
.
.