Sports

अहमदाबाद : पूर्व भारतीय स्पिनर हरभजन सिंह ने अहमदाबाद की पिच के बारे में कहा है कि बात पिच की नहीं, बल्कि गेंदबाजों की होनी चाहिए जो ऐसी गेंदबाजी कर रहे हैं। उन्हें लगता है कि तीसरे टेस्ट में अक्षर पटेल सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज रहे। 

हरभजन ने एक कार्यक्रम में कहा, ‘हमारे करियर की शुरुआत में स्पिनरों को स्टंप को हिट करना सिखाया जाता था और कहा जाता था कि गेंद स्पिन होने के बाद स्टंप पर लगनी चाहिए। अगर विकेट में स्पिन है तो गेंदबाज को यह अनुमान लगाना होता था कि गेंद को कितना स्पिन करना है और अगर आप लगातार स्टंप को हिट करने से चूक रहे हैं तो इसे गेंदबाज की गलती माना जाता था।' 

उन्होंने कहा, 'अगर धीमी या अन्य पिच है तो गेंदबाजी करना हमेशा चुनौतीपूर्ण होता था। सबसे मुश्किल गेंदें वो होती थी, जिसका बल्लेबाज को बल्ले से सामना करना पड़ता था और मुझे लगता है कि तीसरे टेस्ट में अक्षर की गेंदबाजी पर यही हुआ, इसलिए वह मैच के सफल और सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज रहे। बल्लेबाजों को उनकी हर एक गेंद को खेलना पड़ रहा था और अक्षर खुद नहीं जानते थे कि गेंद स्पिन होगी या नहीं।' 

.
.
.
.
.