Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: टीम इंडिया के दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर का करियर बेपनाह शानदार रहा है। दाएं हाथ का यह बल्लेबाज क्रिकेट के इतिहास में एकमात्र ऐसा बल्लेबाज है, जिसने अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 100 शतक लगाए हैं। उनके नाम टेस्ट और वनडे में सबसे अधिक रनों का रिकॉर्ड भी है। ऐसे में अवॉर्ड और सम्मान लगातार उनकी झोली में गिर रहे हैं। वही तेंदुलकर ने 'लॉरेस 20 स्पोर्टिंग मोमेंट 2000-2020' अवॉर्ड जीता है।
 

दरअसल, जर्मनी की राजधानी बर्लिन पहुंचने पर सचिन तेंदुलकर ने अपने इस्टाग्राम पर पोस्ट डालकर जानकारी दी थी। इस अवॉर्ड के लिए सचिन तेंदुलकर समेत दुनिया भर से 20 दावेदार नामित हुए थे। उन सभी को पछाड़ते हुए तेंदुलकर ने यह अवॉर्ड अपने नाम कर लिया। इसी समारोह में बार्सिलोना फुटबॉल क्लब के स्टार लियोनेल मेसी और ब्रिटेन के फॉर्म्युला-1 ड्राइवर लुइस हैमिल्टन को 2019 का सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी चुना गया, जबकि जापान में रग्बी वर्ल्ड कप जीतने वाली साउथ अफ्रीका की पुरूष रग्बी टीम (स्प्रिंगबोक्स) को टीम ऑफ द ईयर चुना गया।

तेंदुलकर को दिया गया था 'लैप ऑफ ऑनर'
PunjabKesari
भारत की 2011 विश्व कप में जीत को देखते हुए तेंदुलकर से जुड़े लम्हे को 'कैरीड आन द शोल्डर्स आफ ए नेशन' शीर्षक दिया गया है। करीब नौ साल पहले तेंदुलकर अपने छठे विश्व कप में खेलते हुए फाइनल मुकाबला जीतने वाली टीम के सदस्य बने थे। विश्व कप जीतने के बाद साथी खिलाड़ियों ने उन्हें अपने कंधों पर बिठाकर स्टेडियम का चक्कर लगवाया था। इस दौरान वह अपने प्रसंशकों का अभिवादन करते हुए नहीं थक रहे थे।

 

.
.
.
.
.