Sports

बेंगलुरु : कोरोना वायरस महामारी की वजह से लागू यात्रा प्रतिबंधों के कारण भारतीय हॉकी टीम के एफआईएच प्रो-लीग के मैचों के स्थगित होने पर मिडफील्डर सुमित ने बुधवार को कहा कि तोक्यो ओलंपिक से पहले उनकी टीम दूसरी टीमों के खेल का बारीकी से विश्लेषण कर रही है। अर्जेंटीना दौरे के बाद भारतीय टीम को इस महीने ब्रिटेन, स्पेन और जर्मनी के खिलाफ एफआईएच प्रो लीग के मैच खेलने थे, लेकिन कोविड-19 मामलों में वृद्धि के मद्देनजर लगाए गए यात्रा प्रतिबंधों के कारण इसे स्थगित कर दिया गया।

पुरुष टीम के सीनियर कोर ग्रुप के साथ यहां के भारतीय खेल प्राधिकरण (साई) केंद्र में प्रशिक्षण कर रहे सुमित ने कहा कि कोई अंतरराष्ट्रीय मैच नहीं होने के कारण वे अपने प्रतिद्वंद्वी टीमों के मौजूदा मैचों के वीडियो फुटेज देखकर तोक्यो खेलों की तैयारी कर रहे हैं। सुमित ने कहा कि हम उन टीमों को करीब से देख रहे हैं जो वर्तमान में अपने प्रो लीग मैच खेल रही हैं। हम अपने अभ्यास सत्र के दौरान उनका उपयोग करने के लिए उनकी खेल शैली और संरचना का विश्लेषण कर रहे हैं। हम अपने आंतरिक अभ्यास के दौरान मैच जैसे परिदृश्य बनाते है। हम किसी विशेष टीम की संरचना का निर्माण करते है। यह वास्तव में प्रभावी है, और हम इसका अधिकतम लाभ उठाने की कोशिश कर रहे हैं।

पिछले साल जनवरी में नीदरलैंड के खिलाफ प्रो लीग मैच के बाद अर्जेंटीना के हालिया दौरे पर गई टीम में वापसी करने वाले 24 साल के इस खिलाड़ी ने कहा कि मैं शुरू में थोड़ा नर्वस था क्योंकि मैं बहुत लंबे समय के बाद खेल रहा था। मैं हालांकि टीम में वापस आने और ओलंपिक चैंपियंस अर्जेंटीना के खिलाफ खेलने के लिए बहुत उत्साहित था। भुवनेश्वर में 2019 में एफआईएच सीरीज फाइनल्स के दौरान मेरी कलाई में चोट लग गयी थी। मैं छह महीने के लिए टीम से बाहर था। इससे उबरने के बाद मुझे नीदरलैंड के खिलाफ भुवनेश्वर में जनवरी 2020 में प्रो लीग मैचों में खेलने का मौका मिला लेकिन इमानदारी से कहूं तो तब मैंने मजबूत वापसी नहीं की थी।

.
.
.
.
.