Sports

मुंबई : बांगलादेश के क्रिकेटर इन दिनों घरेलू मांगों को लेकर अपने क्रिकेट बोर्ड से नाराज हैं। टीम के टेस्ट क्रिकेटर शाकिब अल हसन ने तो आगामी भारत दौरे पर आने से ही इंकार कर दिया था। बांगलादेश भारत दौरा करेगी या नहीं इसको लेकर असमंजस की स्थिति बनी हुई है। इसी बीच बीसीसीआई अध्यक्ष बनते ही गांगुली एक्शन में आ गए हैं। उनका आशा व्यक्त की है कि बांगलादेश का भारत दौरा योजना के अनुरूप ही चलेगा क्योंकि उनकी प्रधानमंत्री शेख हसीना ने उन्हें सहमति दी है।

Sourav Ganguly take important decision on Bangladesh Tour of India

राष्ट्रीय टीम के खिलाडिय़ों ने सोमवार को तब तक किसी भी क्रिकेट गतिविधि में हिस्सा लेने से इनकार कर दिया था, जब तक उनकी मांगें पूरी नहीं हो जाती जिसमें वेतन में इजाफा शामिल है। इससे आगामी दौरे पर संदेह के बादल छा गए थे। हालांकि गांगुली ने कहा कि बांगलादेश तीन नवंबर से शुरू होने वाले दौरे में हिस्सा लेगा।

PunjabKesari

गांगुली ने बीसीसीआई अध्यक्ष पद का भार संभालते हुए पत्रकारों से कहा कि यह उनकी अंदरूनी मसला है। लेकिन बांगलदेश की प्रधानमंत्री ने कहा कि वह कोलकाता में टेस्ट के लिए आएंगी। अगर उन्होंने अपनी सहमति दे दी है तो मुझे नहीं लगता कि राष्ट्रीय टीम ऐसा नहीं करेगी। तीन नवंबर से शुरू होने दौरे में बांगलादेश को तीन टी-20 अंतरराष्ट्रीय और विश्व चैम्पियनशिप के अंतर्गत दो टेस्ट मैच खेलने हैं।

.
.
.
.
.