Sports

नई दिल्ली : अखिल भारतीय सीनियर चयन समिति के अध्यक्ष एमएसके प्रसाद (MSK Prasad) का साफ कहना है कि विकेट के पीछे ऋषभ पंत (Rishabh Pant) संघर्ष कर रहे हैं। ऐसे में उनकी विकेटकीपिंग में सुधार लाने के लिए एक विशेषज्ञ कार्यक्रम बनाया जाएगा। इसके तहत ऋषभ पंत अब पूर्व भारतीय विकेटकीपर किरन मोरे की देखरेख में दोबारा ट्रेनिंग लेंगे। वेस्टइंडीज के खिलाफ रविवार को तीसरे एकदिवसीय मैच में पंत ने कई कैच टपकाए जिसके बाद वह प्रशंसकों के निशाने पर आ गए।

ऋषभ पंत की विकेटकीपिंग सुधार की जरूरत 

Rishabh Pant photo, Rishabh Pant image

श्रीलंका और आस्ट्रेलिया के खिलाफ आगामी सीमित ओवरों की श्रृंखला के लिए टीम चयन के मौके पर प्रसाद ने संवाददाताओं से कहा कि पंत को अपनी विकेटकीपिंग में सुधार करना होगा। हम उसके लिए विशेषज्ञ विकेटकीपिंग कोच रखेंगे। 22 साल के इस विकेटकीपर को टीम प्रबंधन का पूरा साथ मिल रहा है लेकिन उन्हें लगता है कि पंत को विशेष ध्यान देने की आवश्यकता है।

ऋषभ पंत के खराब प्रदर्शन के कारण धोनी का नाम ले रहे दर्शक

Rishabh Pant photo, Rishabh Pant image

ऋषभ पंत के खराब प्रदर्शन के कारण बांग्लादेश और वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू श्रृंखला के दौरान मैदान में मौजूद दर्शक बार बार धोनी का नाम ले रहे थे। कप्तान विराट कोहली ने हालांकि कहा कि पंत की जगह धोनी का नाम लेना इस युवा खिलाड़ी के लिए अपमानजनक होगा। बीसीसीआई के अध्यक्ष और पूर्व कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने भी पंत का समर्थन करते हुए कहा था कि यह विकेटकीपर बल्लेबाज शानदार खिलाड़ी है जिसे परिपक्व होने में समय लगेगा।

.
.
.
.
.