Sports

नई दिल्ली : महानतम क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो डालकर खुलासा किया है कि उन्होंने एक वेटर की दी सलाह पर अपना एल्बो गार्ड का डिजाइन बदला था। यह तरीका कारगर साबित हुआ और इसके बाद उनकी बुरी फॉर्म भी खत्म हो गई। सचिन ने ट्विटर पर डाली गई वीडियो के कैप्शन में लिखा है- एक मुलाकात यादगार हो सकती है!

सचिन तेंदुलकर और वेटर की मुलाकात 

मैं एक टेस्ट श्रृंखला के दौरान ताज कोरोमंडल, चेन्नई में एक कर्मचारी (वेटर) से मिला था, जिसके साथ मेरी एल्बो गार्ड पर चर्चा हुई। मैंने सलाह पर अमल करते हुए एल्बो गार्ड फिर से डिजाइन किया। मुझे आश्चर्य है कि वह अब कहां है और उसके साथ पकडऩे की इच्छा है। हे नेटिजन, तुम मुझे उसे खोजने में मदद कर सकते हो?

सचिन तेंदुलकर के किस्से 

वीडियो में सचिन ने किस्सा शेयर करते हुए कहा कि एक टेस्ट सीरीज के दौरान मैं चेन्नई के ताज होटल में रुका था। मैंने कॉफी के लिए ऑर्डर किया। तभी एक वेटर मेरे कमरे में आया। उसने कॉफी रखी और कहने लगा कि मैं आपसे क्रिकेट पर बात करना चाहता हूं। मैंने कहा- हां, जरूर उसने कहा कि मैं जब भी आपको देखता हूं तो लगता है कि आपका एल्बो गार्ड आपके बैट को स्विंग होने से रोकता है। मुझे नहीं लगता कि मुझे यह बात किसी को बतानी चाहिए क्योंकि मैंने जितनी बार भी आपकी वीडियो देखी है- बार-बार रिवाइंड कर उसमें पाया कि आपको इसके कारण दिक्कत होती है। सचिन ने कहा कि वेटर द्वारा बताई गई समस्या को सिर्फ मैं ही समझ रहा था क्योंकि मैं इस समस्या से दो-चार हो रहा था।

सचिन तेंदुलकर को दी वेटर ने सलाह 

तभी वेटर ने कहा कि मैंने आपकी कई वीडियोज देखी हैं इसलिए मन मेंख्याल आया कि आपको इसके बारे में बताऊं।  सचिन ने कहा कि इसके बाद मैंने हाथ की मोटाई और लंबाई के हिसाब से एल्बो गार्ड डिजाइन करवाया ताकि कोई दिक्कत न आए। और यह फार्मूला काम भी कर गया। 

.
.
.
.
.