Sports

नई दिल्ली : पाकिस्तान के महान लेग स्पिनर अब्दुल कादिर (Abdul Qadir) के एक ओवर में चार छक्कों ने सचिन तेंदुलकर (Sachin Tendulkar) को मात्र 16 साल की उम्र में अंतररष्ट्रीय स्टार बना दिया था। सचिन ने 1989 में 16 साल की उम्र में पाकिस्तान का दौरा किया था। इस दौर में उन्होंने अपनी बल्लेबाजी प्रतिभा की छाप छोड़ दी थी। सचिन उस समय चर्चा में आ गए थे जब उन्होंने दिग्गज लेग स्पिनर कादिर के एक ओवर में चार छक्के जड़े थे। कादिर का कल लाहौर में निधन हो गया और लीजेंड सचिन तेंदुलकर ने कादिर के प्रति अपनी श्रद्धांजलि अर्पित की है।

सचिन तेंदुलकर की प्रतिभा देख अब्दुल कादिर ने ये कहा था 

Abdul Qadir

अब्दुल कादिर ने ही उस दौरे में सचिन की प्रतिभा को पहचानते हुए कहा था कि यह लड़का काफी आगे तक जाएगा और उनकी यह बात सही साबित हुई। सचिन ने टेस्ट और वनडे क्रिकेट में लगभग तमाम विश्व रिकॉर्ड तोड़ डाले। सचिन ने चार मैचों की टेस्ट सीरीज में 239 रन बनाए थे जबकि उनका सामना इमरान खान, वसीम अकरम, वकार युनिस और कादिर जैसे दिग्गज गेंदबाजों से था। टेस्ट सीरीज खत्म होने के बाद पहला वनडे मैच पेशावर में खेला जाना था लेकिन यह बारिश के कारण रद्द हो गया।

अब्दुल कादिर ने उस मैच को याद करते हुए ये कहा था 

Abdul Qadir, Sachin tendulkar photo, sachin tendulkar images, sachin photos

आयोजकों ने दर्शकों के लिए 30-30 ओवर का पर्दशनी मैच आयोजित किया था। कादिर ने उस मैच को याद करते हुए एक समय कहा था- मुझे सचिन से लगाव रहा था क्योंकि वह एक बच्चा ही था लेकिन वह बहुत अच्छा खेल रहा था। भारत ने उस प्रदर्शनी मैच में टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने का फैसला किया। के श्रीकांत और सचिन बल्लेबाजी करने उतरे।

सचिन तेंदुलकर बनाम अब्दुल कादिर 

Abdul Qadir, Sachin tendulkar photo, sachin tendulkar images, sachin photos

कादिर ने उस मैच को याद करते हुए कहा था- जब मैं गेंदबाजी करने आया तो मैंने श्रीकांत को मेडन ओवर फेंका। इस ओवर के बाद मैंने सचिन से कहा कि यह कोई अंतररष्ट्रीय मैच नहीं है, इसलिए तुम अगले ओवर में मुझे छक्का मारने की कोशिश करो। यदि तुम सफल रहे तो स्टार बन जाओगे। उसने उस समय मुझे कुछ नहीं कहा लेकिन अगले ओवर में मेरी गेंदों पर चार छक्के जड़ दिए।

सचिन तेंदुलकर कैसे बने रातों-रात स्टार 

 Sachin tendulkar photo, sachin tendulkar images, sachin photos

सचिन तेंदुलकर ने उस मैच में 18 गेंदों पर 53 रन बनाए जिसमें कादिर के ओवर में मारे गए 28 रन शामिल थे। कादिर के इस ओवर में सचिन के बल्ले से 6,4,0,6,6,6 के शॉट निकले। सचिन ने दूसरे छोर पर गेंदबाजी कर रहे पाकिस्तानी लेग स्पिनर मुश्ताक अहमद (Mushtaq Ahmed) की गेंदों पर भी चार छक्के जड़े। इस मैच ने सचिन को रातों रात नया स्टार बना दिया जिसके बाद उन्होंने पीछे मुढ़कर नहीं देखा। कादिर ने उस मैच के बाद कहा था- इस 16 साल के लड़के में अछ्वुत प्रतिभा और कौशल है, तभी उसने मेरी गेंदों पर चार छक्के मारे।

.
.
.
.
.