Sports

मुंबई : पिछले लगभग दो साल से भारतीय सीमित ओवर की टीम से पूरी तरह नजरअंदाज चल रहे ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन ने कहा है कि वह इस फार्मेट के कोई अनाड़ी खिलाड़ी नहीं है। अनुभवी और सफल गेंदबाजों में शामिल अश्विन लंबे समय से भारत की वनडे और ट््वंटी 20 टीमों से बाहर हैं और कप्तान विराट कोहली कलाई के स्पिनरों कुलदीप यादव और युजवेंद्र चहल पर ज्यादा भरोसा कर रहे हैं।

Ravichandran Ashwin says I am no slouch in white ball cricket

लेफ्ट आर्म स्पिनर रवींद्र जडेजा भी एक साल तक सीमित ओवरों की टीम से बाहर रहे थे लेकिन पिछले कुछ महीनों में वह छोटे फार्मेट में खेल रहे हैं। विश्वकप टीम के लिए इन तीन स्पिनरों में से दो का चयन होना है और अश्विन की वापसी की कोई उम्मीद नहीं है। अश्विन आखिरी बार 2017 में वेस्टइंडीज में एंटीगा में खेले थे। उन्होंने कहा- मैं टीम से इसलिए बाहर नहीं हूं क्योंकि मैं खराब खेल रहा हूं बल्कि यह मांग और उपलब्धता के हिसाब से चल रहा है।

Ravichandran Ashwin says I am no slouch in white ball cricket

अश्विन बोले- मैं खुद को केवल टेस्ट का खिलाड़ी नहीं मानता हूं क्योंकि मैं कोई अनाड़ी नहीं हूं। मैं सीमित ओवर प्रारूप में खेला हूं और मेरे रिकार्ड भी बहुत अच्छे रहे हैं। आखिरी वनडे मैच जो मैंने खेला था उसमें मुझे 28 रन पर तीन विकेट मिले थे। मैं खराब खेल की वजह से बाहर नहीं हूं। मैंने सैयद मुश्ताक अली टूर्नामेंट में खेला है और वहां अच्छा प्रदर्शन किया।

Ravichandran Ashwin says I am no slouch in white ball cricket

अश्विन ने कहा-मैं अपनी मौजूदा गेंदबाजी में केवल और विविधता ला रहा हूं लेकिन उसमें बदलाव की कोशिश नहीं कर रहा क्योंकि यही मेरी ताकत है। वहीं, फिटनेस पर बात करते हुए अश्विन ने कहा- आईपीएल में खिलाडिय़ों की फिटनेस पर नजर रहेगी और लीग में उनके प्रदर्शन से आगे की तस्वीर साफ हो पाएगी।

.
.
.
.
.