Sports

नई दिल्ली : भारतीय अंडर-19 टीम और एनसीए से बल्लेबाजी कोच का आवेदान रद्द होने के बाद पूर्व खिलाड़ी और पूर्व राष्ट्रीय चयनकर्ता विक्रम राठौड़ ने भारतीय क्रिकेट टीम के बल्लेबाजी कोच के लिए आवेदन किया है। राठौड़ के अंडर-19 और एनसीए के बल्लेबाजी सलाहकार का आवेदन हितों के टकराव के कारण रद्द हुआ क्योंकि वह जूनियर चयन समिति के अध्यक्ष आशीष कपूर के रिश्तेदार है।

बीसीसीआई के एक अधिकारी ने राठौड़ के बल्लेबाजी कोच के लिए आवेदन की पुष्टि करते हुए कहा, ‘क्रिकेट संचालन समिति टीम के वरिष्ठ सदस्य ने राठौड़ को सलाह दी थी आशीष कपूर की मौजूदगी के कारण हितों का टकाराव होगा। उनके लिए सीनियर टीम के बल्लेबाजी कोच बनना हितों के टकराव के तहत नहीं आयेगा।' इस बात की संभावना है कि राठौड़ संजय बांगड़ की जगह ले सकते है हालांकि इस दौड़ में प्रवीण आमरे भी शामिल है। विश्व कप के सेमीफाइनल में महेन्द्र सिंह धोनी को सातवें नंबर पर बल्लेबाजी के लिए भेजने पर बांगड़ की आलोचना हुई थी लेकिन उन्होंने कहा कि इस फैसले में वह अकेले शामिल नहीं थे। वह हालांकि टीम के साथ बने हुये है क्योंकि बीसीसीआई ने सभी सहयोगी सदस्यों का करार वेस्टइंडीज दौरे तक बढ़ दिया है।

मुख्य कोच रवि शास्त्री को कप्तान विराट कोहली का समर्थन प्राप्त है लेकिन उनकी स्थिति भी बहुत अच्छी नहीं है। विश्व कप विजेता कप्तान कपिल देव, पूर्व बल्लेबाज अंशुमन गायकवाड़ और महिला टीम की पूर्व कप्तान शांता रंगास्वामी की क्रिकेट सलाहकार समिति (सीएसी) टीम के सहयोगी सदस्यों का चुनाव करेगी। आस्ट्रेलिया के हरफनमौला टाम मूडी से शास्त्री को कड़ी चुनौती मिलने की संभावना है। भारतीय टीम पूर्व बल्लेबाज और क्षेत्ररक्षण कोच रोबिन सिंह के साथ टीम के पूर्व मैनेजर और जिम्बाब्वे के मौजूदा कोच लालचंद राजपूत भी इस दौड़ में शामिल हैं। दक्षिण अफ्रीका के जोंटी रोड्स क्षेत्ररक्षण कोच के लिए मजबूत दावेदार होंगे। 

.
.
.
.
.