Sports

दुबई : दिल्ली कैपिटल्स के अनुभवी लेग स्पिनर अमित मिश्रा के चोट के कारण आईपीएल 13 से बाहर हो जाने से अब इस टूर्नामेंट के इतिहास में सर्वाधिक विकेट लेने के मुंबई इंडियंस के लसित मलिंगा के रिकॉर्ड को चेन्नई सुपरकिंग्स के लेग स्पिनर पीयूष चावला से ही खतरा रह गया है। मुंबई इंडियंस के श्रीलंकाई तेज गेंदबाज मलिंगा निजी कारणों से इस बार टूर्नामेंट शुरू होने से पहले ही हट गए थे। 

मलिंगा ने आईपीएल के 122 मैचों में 170 विकेट लिए थे जो टूर्नामेंट में सर्वाधिक हैं। दिल्ली कैपिटल्स के मिश्रा ने इस सत्र में अपने विकेटों की संख्या 150 मैचों में 160 विकेट पहुंचा दी थी लेकिन मिश्रा ऊंगली की चोट के कारण शेष सत्र से बाहर हो गए।  शुक्रवार को कोलकाता नाइटाइराइडर्स के खिलाफ मैच में नीतीश राणा के एक शॉट पर गेंद पकड़ने के चक्कर में मिश्रा की उंगली में चोट आ गई थी। हालांकि उन्होंने इसके बाद भी गेंदबाजी जारी रखी और शुभमन गिल का विकेट लिया। 

शारजाह में खेले गए इस मैच में उन्होंने 14 रन देकर एक विकेट लिया था। लेकिन इसी चोट के कारण उन्हें आईपीएल से बाहर होना पड़ा है। मिश्रा अब इस चोट के संबंध में विशेषज्ञ से परामर्श करेंगे। मलिंगा का रिकॉर्ड तोड़ने की होड़ में इस बार मिश्रा के अलावा चेन्नई के ऑफ स्पिनर हरभजन सिंह और चावला भी शामिल थे लेकिन हरभजन निजी कारणों से आईपीएल शुरू होने से पहले ही हट गए थे जबकि मिश्रा चोट के कारण बाहर हो गए। 

अब मलिंगा का रिकॉर्ड तोड़ने का मौका चावला के पास रह गया है जिन्हें अपनी टीम के आगामी मैचों में शानदार प्रदर्शन करना होगा। चावला ने टूर्नामेंट शुरू होने से पहले 157 मैचों में 150 विकेट लिए थे और इस सत्र में पांच मैचों में वह छह विकेट ले चुके हैं। चावला 162 मैचों में 156 विकेट हासिल कर चुके हैं और उन्हें मलिंगा का रिकॉर्ड तोड़ने के लिए 15 विकेट की जरूरत है जो कतई असंभव नहीं है। 

चेन्नई सुपरकिंग्स ने पिछले दिसंबर में आईपीएल-2020 की नीलामी में चावला को खरीदने पर 6.75 करोड़ रुपये खर्च किए थे और इस सत्र में उनके पास मौका है कि वह इस कीमत को सार्थक करें और अपनी टीम को प्लेऑफ में पहुंचाएं। 

.
.
.
.
.