Sports

कराची : पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) एक जुलाई से अपने केंद्रीय अनुबंधित खिलाड़ियों के लिए एक नई नीति अपनाएगा, जिसमें मौजूदा एक अनुबंध प्रणाली के बजाय दो अलग-अलग प्रारूपों के लिए नए अनुबंध दिए जाएंगे। बोर्ड के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया कि लाल गेंद और सफेद गेंद के प्रारूपों के लिए अलग-अलग अनुबंध दिए जाएगे। 

अधिकारी ने कहा कि जो खिलाड़ी अनिवार्य रूप से दोनों प्रारूपों में देश का प्रतिनिधित्व करते है उन्हें अलग-अलग लाल गेंद और सफेद गेंद के करार दिए जाएंगे। जिसका मतलब यह है कि वे मौजूदा एक के बजाय दो अनुबंध हासिल करेंगे। पीसीबी अध्यक्ष रमीज राजा सैद्धांतिक तौर पर अनुबंध पाने  वाले खिलाड़ियों के मासिक ‘रिटेनर' में 25 से 30 प्रतिशत की बढ़ोतरी पर सहमत हो गए हैं। 

उन्होंने कहा कि विभिन्न श्रेणियों में केंद्रीय अनुबंध प्राप्त खिलाड़ियों के लिए मैच फीस एक समान है, वहीं ‘रिटेनर' वरिष्ठता, प्रदर्शन और फिटनेस पर आधारित होंगे। इस बात की अधिक संभावना है कि नए केंद्रीय अनुबंध में खिलाड़ियों की मौजूदा संख्या 20 से बढ़कर लगभग 28 से 30 हो जाएगी। ऐसा इसलिए है क्योंकि दो अलग-अलग प्रारूपों में हम अनुबंध देंगे। खिलाड़ियों की संख्या में वृद्धि सबसे अधिक उभरती हुई श्रेणी में होगी। इस अधिकारी ने बताया कि बोर्ड बड़े खिलाड़ियों के लिए मुआवजा कोष का गठन करेगा। ऐसे खिलाड़ी अगर देश के प्रतिनिधित्व के लिए विदेशी लीग के करार को छोड़ते है तो बोर्ड उन्हें कुछ रकम का मुआवजा देगा।  
 

.
.
.
.
.