Sports

अम्मान: भारत के आठ मुक्केबाजों ने एशिया/ओसनिया ओलंपिक क्वालिफायर मुक्केबाजी टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में प्रवेश करने और इस साल होने वाले टोक्यो ओलंपिक का कोटा हासिल कर अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी कर ली है। भारत ने 2012 के लंदन ओलम्पिक में आठ कोटा स्थान हासिल करने के अपने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन की बराबरी कर ली है। भारत ने 2016 के पिछले रियो ओलम्पिक में छह कोटा स्थान हासिल किये थे। 

छह बार की विश्व चैंपियन एमसी मैरीकॉम (51 किग्रा), विश्व चैंपियनशिप के रजत विजेता अमित पंघल (52), राष्ट्रमंडल खेलों के स्वर्ण पदक विजेता विकास कृष्णन (69), एशियाई चैंपियनशिप की स्वर्ण विजेता पूजा रानी (75), लवलीना बोर्गोहेन (69), सिमरनजीत कौर (60), आशीष कुमार (75) और सतीश कुमार (91 किग्रा प्लस) ने सेमीफाइनल में प्रवेश कर लिया है और ओलम्पिक कोटा भी हासिल कर लिया है। लंदन ओलम्पिक की कांस्य पदक विजेता मैरीकॉम ने सोमवार को क्वाटर्रफाइनल में फिलीपींस की आइरिश मैग्नो को 5-0 से पीटकर सेमीफाइनल में स्थान बनाया जहां उनका मुकाबला चिन की युआन चांग से होगा। मैरीकॉम का यह दूसरा ओलम्पिक होगा।          

अमित पंघल ने 52 किग्रा वर्ग में फिलीपींस के कार्लो पालम को 4-1 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई जहां उनका मुकाबला चीन के हू जियानगुआन से होगा। सिमरनजीत कौर 60 ने मंगोलिया की नामुन मोनख़ोर को 5-0 से हराकर सेमीफाइनल में जगह बनाई। सिमरन का सेमीफाइनल में चीनी ताइपे की शिह यी वू से मुकाबला होगा। विश्व चैंपियनशिप के कांस्य पदक विजेता मनीष कौशिक को 63 किग्रा में नजदीकी मुकाबले में मंगोलिया के चिनजोरिग बातारसुख से 2-3 से हार का सामना करना पड़ा। मनीष अभी कोटा के लिए मुकाबले से पूरी तरह बाहर नहीं हुए हैं और उन्हें एक और मौका मिलेगा।     

.
.
.
.
.