Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने 41 साल का सूखा खत्म करते हुए जर्मनी को हराकर ओलंपिक में कांस्य पदक अपने नाम किया। हॉकी में मैडल के साथ ही पूरे देश में खुशी की लहर है और इस खास मौके पर पुरुष हॉकी टीम के सदस्यों के घर पर भी जश्न मनाया जा रहा है जिनकी वीडियोज भी सामने आ रही हैं। भारतीय हॉकी टीम के ओलंपिक में ब्रॉन्ज जीतने पर गुरजंत सिंह, नीलकांत शर्मा और मनदीप सिंह के परिवारवाले और पड़ोसी अपनी शुखी व्यक्त करते हुए नजर आए जिनकी वीडियो सोशल मीिया पर वायरल हो रही है। देखें - 

गौर हो कि 1980 के मॉस्को ओलंपिक खेलों के बाद यह भारत का पहला ओलंपिक हॉकी पदक है। वहीं यह ओलंपिक के इतिहास में भारत का तीसरा हॉकी कांस्य पदक है। अन्य दो कांस्य पदक 1968 मेक्सिको सिटी और 1972 म्यूनिख खेलों में आए थे। भारतीय पुरुष हॉकी टीम ने ओवरऑल ओलंपिक में 12 पदक जीते हैं, जिसमें आठ स्वर्ण, एक रजत और तीन कांस्य पदक शामिल हैं।

मैच की बात करें तो दोनों टीमों ने अपनी ताकत के साथ हॉकी खेली। जर्मनी शुरुआत में भारत के मुकाबले थोड़ा हावी रहा। दूसरे मिनट में पहला गोल भी जर्मनी की तरफ से ही हुआ। मिडफील्डर ओरुज तिमूर ने शानदार गोल करते हुए टीम को 1-0 से बढ़त दिलाई। इसके बाद भारत ने एक गोल की तलाश में आक्रामकता दिखाई, लेकिन गोल नहीं हो पाया और पहला क्वाटर्र 1-0 के स्कोर पर समाप्त हुआ। 

.
.
.
.
.