Sports

नयी दिल्ली :  भारतीय राष्ट्रीय राइफल संघ (एनआरएआई) को राइफल, पिस्टल और शॉटगन के मुख्य कोचों का ओलंपिक कोर समूह में शामिल निशानेबाजों का एक महीने का राष्ट्रीय शिविर आयोजित करने का आग्रह मिला है। एनआरएआई ने देश भर में कोरोना वायरस की स्थिति को देखते हुए अपने कोर समूह के लिए एक अगस्त से शुरू होने वाले अनिवार्य ट्रेनिंग शिविर को स्थगित कर दिया था।

हालांकि स्वास्थ्य और सुरक्षा नियमों को ध्यान में रखते हुए कोर समूह में शामिल निशानेबाज स्वयं ही डा. कर्णी सिंह निशानेबाजी रेंज में ट्रेनिंग कर रहे हैं। इस सुविधा को इस्तेमाल के लिए आठ जुलाई को दोबारा खोला गया। एनआरएआई सचिव राजीव भाटिया ने पीटीआई को बताया, ‘‘हमें राष्ट्रीय शिविर शुरू करने के लिए मुख्य कोचों का आग्रह मिला है। वे चाहते हैं कि शिविर कम से कम एक महीने चले।

उन्होंने कहा- एनआरएआई इस पर गौर कर रहा है। स्थिति को देखते हुए काफी पहलू हैं जिन पर शिविर शुरू करने से पहले गौर करने की जरूरत है। मेलबर्न राष्ट्रमंडल खेल 2006 में पांच स्वर्ण पदक जीतने वाले समरेश जंग भारतीय पिस्टल टीम के हाई परफोर्मेंस कोच हैं जबकि ओलंपियन दीपाल देशपांडे राष्ट्रीय राइफल कोच हैं। ओलंपियन और पूर्व डबल ट्रैप एवं ट्रैप विशेषज्ञ मनशेर सिंह शॉटगन टीम के मुख्य कोच हैं।

.
.
.
.
.