Sports

नई दिल्ली : भारतीय टेनिस टीम को डेविस कप विश्व ग्रुप एक के मुकाबले में नॉर्वे का सामना करना है। भारतीय टीम को नॉर्वे दौरे पर ये मुकाबले उस समय खेलने है जब भारतीय टीम एशियाई खेलों में भाग ले रही होगी। डेविस कप मुकाबला या तो 16-17 या 17-18 सितंबर को होगा जबकि एशियाई खेलों में टेनिस स्पर्धा 10 से 14 सितंबर तक होनी है। भारतीय खिलाड़ी भले ही 14 अप्रैल तक एशियाई खेलों की अपनी व्यस्तता पूरी कर लेंगे, लेकिन डेविस कप के लिए नॉर्वे पहुंचना व्यावहारिक रूप से मुश्किल होगा। खिलाडिय़ों को कोर्ट में उतरने से पहले परिस्थितियों का अभ्यस्त होने की जरूरत है।

भारतीय टेनिस टीम, डेविस कप, Indian Tennis Team, Davis Cup, Tennis news in hindi, sports news, Asian Games

अखिल भारतीय टेनिस संघ (एआईटीए) के लिए यह सुनिश्चित करना एक चुनौती होगी कि दोनों स्पर्धाओं में देश का प्रतिनिधित्व हो। एआईटीए महासचिव अनिल धूपर ने बताया कि हमने और एशियाई टेेनिस महासंघ ने आईटीएफ (अंतरराष्ट्रीय टेनिस महासंघ) से इस बारे में बात की थी क्योंकि 12 एशियाई देश इससे प्रभावित होने जा रहे हैं। हमने तारीख में बदलाव के लिए कहा था लेकिन वे सहमत नहीं हुए। हम अब आईटीएफ में अपील दायर कर रहे हैं।

भारतीय टेनिस टीम, डेविस कप, Indian Tennis Team, Davis Cup, Tennis news in hindi, sports news, Asian Games

उन्होंने कहा कि हम दोनों स्पर्धाओं में खेलना चाहते हैं और अन्य देश भी ऐसा ही चाहते हैं। पाकिस्तान भी अलग से अपील दायर कर रहा है। देखते हैं क्या होता है। भारत और नॉर्वे ने डेविस कप के इतिहास में कभी एक-दूसरे का सामना नहीं किया है। नॉर्वे की टीम में दुनिया में 8वें नंबर के खिलाड़ी कैस्पर रुड हैं। उनके अगले सर्वश्रेष्ठ खिलाड़ी विक्टर डुरासोविक हैं। वह एटीपी एकल रैंकिंग में 329वें स्थान पर है।

भारतीय टीम के कोच जीशान अली ने कहा कि इस स्तर पर हर मुकाबला कठिन है और यह मुकाबला उनके देश में खेला जाना है, जो एक अलग तरह की चुनौती है। मुकाबला हमारे लिए कैसा होगा अभी इसके बारे में कुछ कहना जल्दबाजी होगी।

.
.
.
.
.