Sports

खेल डैस्क : इस्तांबुल में महिला विश्व मुक्केबाजी चैंपियनशिप के 52 किलोग्राम भार वर्ग में थाईलैंड की मुक्केबाज जितपोंग जुतामास को हराकर भारतीय मुक्केबाज निकहत जरीन ने स्वर्ण पदक जीत इतिहास बना दिया है। इससे पहले सेमीफाइनल में उनका मुकाबला ब्राजील की कैरोलिन डि एलमेडा के साथ हुआ था। पूर्व जूनियर विश्व चैम्पियन जरीन मुकाबले के दौरान संयमित बनी रहीं और अपनी प्रतद्वंद्वी पर पूरी तरह दबदबा बनाए रखा जिससे वह 52 किग्रा वर्ग के मुकाबले में सर्वसम्मत फैसले में 5-0 से जीत दर्ज करने में सफल रहीं। 

Historic Achievement, Nikhat Zareen, Women World Boxing Championship, ऐतिहासिक उपलब्धि, निकहत जरीन, महिला विश्व मुक्केबाजी चैम्पियनशिप
छह बार की विश्व चैम्पियन एमसी मैरीकॉम, सरिता देवी, जेनी आरएल और लेखा सी ऐसी भारतीय महिला मुक्केबाज हैं जिन्होंने विश्व खिताब अपने नाम किये हैं। अब हैदराबाद की मुक्केबाज जरीन भी इस सूची में शामिल हो गई हैं। भारत का इस प्रतियोगिता में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन 2006 में रहा है जब देश ने चार स्वर्ण, एक रजत और तीन कांस्य सहित आठ पदक जीते थे।

.
.
.
.
.