Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : आईपीएल नीलामी में इस बार ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान एरोन फिंच को किसी भी टीम ने नहीं खरीदा। इस कारण वह इसका हिस्सा नहीं बन पाएंगे। आईपीएल में ना बिकने पर फिंच ने बयान दिया था कि वह इसका हिस्सा बनना चाहते थे लेकिन वह खराब फॉर्म से गुजर रहें हैं इसलिए घर पर रहना कोई बुरा विकल्प नहीं है। आईपीएल में नहीं चुना जाना उनके लिए हैरान करने वाला नहीं था। लेकिन फिंच के इस बयान से पूर्व ऑस्ट्रेलियाई कप्तान माइकल क्लार्क खुश नहीं हैं। क्लार्क ने कहा कि मुझे उनका यह रवैया समढ नहीं आया। 

क्लार्क ने कहा कि जैसा कि मैंने पहले भी कहा कि किसी भी आईपीएल टीम ने उनपर बोली नहीं लगाई। मुझे इस पर विश्वास नहीं हो रहा। उन्होंने फिंच को कहा कि तुम ऑस्ट्रेलियाई टीम के कप्तान हो और तुम्हे उम्मीद होनी चाहिए कि आईपीएल में हर टीम तुम्हें अपनी टीम में लेने की कोशिश करे।

क्लार्क ने कहा कि तुम्हारे लिए एक खराब सीरीज जायज है। उसका बिग बैश लीग का सीजन खराब रहा है इसका मतलब यह है कि उसने कम स्कोर बनाए हैं। लेकिन बावजूद इसके तुम आईपीएल की बड़ी डील चाहते हो। लेकिन फिंच ने कहा कि मुझे उम्मीद थी कि मुझे कोई नहीं खरीदेगा, मैं इसका मतलब नहीं समझ पाया। 

गौर हो कि एरोन फिंच को आरीसीबी की टीम ने उन्हें रिलीज कर दिया था। फिंच ने आईपीएल के पिछले सीजन में आरसीबी के लिए 12 मैच खेले जिसमें उन्होंने 111 की साधारण स्ट्राइक रेट से 268 रन बनाए। क्लार्क ने फिंच के रवैये को लेकर सवाल भी उठाए हैं।
 

.
.
.
.
.