Sports

नई दिल्ली : आईपीएल-12 के दूसरे क्वालिफायर में सनराइजर्स हैदराबाद जीतकर अगले राऊंड में पहुंच सकती थी अगर खलील अहमद की किस्मत ने उनका साथ दिया होता। हुआ यूं कि दिल्ली को आखिरी ओवर में केवल 5 रन जीत के लिए चाहिए थे। ऐसे में खलील ने पहले चार गेंदें तो अच्छी फेंकी लेकिन उनकी 5वीं गेंद जरा से ढीली हुई क्या बल्लेबाजी कर रहे कीमो पाल ने चौका जड़कर अपनी टीम को जीत दिला दी। अगर जहन पर जोर डालेंगे तो पता चलेगा कि यह बीते तीन साल में ऐसा दूसरी बार हुआ जब किस्मत की जंग में खलील को मात खानी पड़ी।

देखें आखिरी ओवर को रोमांच

दरअसल 2016 के अंडर-19 विश्व कप के दौरान भी टीम इंडिया के लिए कुछ ऐसी ही स्थिति बनी थी जब विंडिज टीम आखिरी ओवर में जीत के लिए संघर्ष कर रही थी और खलील अहमद विंडिज के ही कीमो पॉल को गेंद फेंक रहे थे। विश्व कप के उस फाइनल मुकाबले में भी कीमो पॉल की किस्मत खलील पर भारी पड़ी थी। तब कीमो ने खलील के ओवर की तीसरी गेंद पर चौका लगाकर इंडीज को विश्व कप दिलाया था। अब आईपीएल के दूसरे क्वालिफायर में एक बार कुछ ऐसा ही घटनाक्रम हुआ जिसकी वजह से हैदराबाद बाहर हो गई।

बता दें कि अंडर-19 विश्व कप के उस फाइनल में भारतीय टीम सरफराज खान के 51 रनों की बदौलत 146 रन ही बना पाई थी। जवाब में खेलने उतरी इंडीज टीम के भले ही एक समय 77 रन पर पांच विकेट गिर चुके थे। लेकिन इसके बाद इंडीज के स्प्रिंगर 52 और कीमो पाल ने नाबाद 40 रन बनाकर इंडीज की झोली में विश्व कप डाल दिया था।

.
.
.
.
.