Sports

मुंबई : मुंबई इंडियंस के मुख्य कोच महेला जयवर्धने ने टीम के इंडियन प्रीमियर लीग के मौजूदा सत्र से जल्दी बाहर होने के बाद कहा है कि वे महत्वपूर्ण लम्हों को नियंत्रित करने में विफल रहे और उन्होंने अच्छा क्रिकेट नहीं खेला। मुंबई की टीम अगर शनिवार को दिल्ली कैपिटल्स के खिलाफ जीत दर्ज भी करती है तो भी उसके अंक तालिका में अंतिम स्थान पर रहने की संभावना है। 

जयवर्धने ने कहा कि लेकिन हमारी टीम में जिस स्तर के खिलाड़ी हैं उसे देखते हुए, हां, आपको बेहद ईमानदार होना होगा कि हमने अच्छा क्रिकेट नहीं खेला। जैसा कि मैंने पहले कहा, जज्बा नहीं था, कुछ मुकाबलों में हम महत्वपूर्ण लम्हों को नियंत्रित नहीं कर पाए अगर हम ऐसा कर पाते हो हमारे अंदर लगातार चार-पांच जीत दर्ज करने का आत्मविश्वास आता, फिर हम प्लेऑफ में जगह बनाने के लिए चुनौती पेश कर रहे होते लेकिन हमारा सत्र ऐसा ही रहा और मैं निश्चित तौर पर निराश हूं।

जयवर्धने ने कहा कि मुख्य चिंता यह थी कि टूर्नामेंट में शुरुआती चरण में वे दबाव की स्थिति से निपटने में नाकाम रहे। किसी भी सत्र में जब शुरुआत धीमी होती है जो यह हमारे लिए चिंता की बात होती है। शुरुआती चार-पांच मुकाबलों में हमने जिस तरह का जज्बा दिखाया, हमारे पास जीत दर्ज करने के मौके थे लेकिन हमने गलतियां की और हमें इसमें सुधार करने की जरूरत है।

मुंबई इंडियंस ने इंग्लैंड के जोफ्रा आर्चर को मोटी रकम में खरीदा जबकि उन्हें पता था कि यह तेज गेंदबाज चोट के कारण मौजूदा सत्र में नहीं खेल पाएगा। आर्चर हालांकि अब कमर के स्ट्रेस फ्रेक्चर के कारण इंग्लैंड के पूरे घरेलू सत्र से बाहर हो गए हैं। जयवर्धने ने कहा कि मुंबई इंडियन्स की टीम इस तेज गेंदबाज की प्रगति को देख रही है और उन्हें आशा है कि यह तेज गेंदबाज अगले सत्र में उपलब्ध रहेगा। 

उन्होंने कहा कि ईमानदारी से कहूं तो यह अभी काफी दूर की बात है। विशेषज्ञों की हमारी टीम उसकी प्रगति पर नजर रख रही है। अतीत में उसे इस तरह की चोट नहीं थी इसलिए यह कुछ नया है। उम्मीद करते हैं कि स्थिति ज्यादा खराब नहीं होगी। देखते हैं वह कैसे प्रगति करता है। अगले आईपीएल में अब भी 10 महीने का समय है इसलिए स्थिति का विश्लेषण करने के लिए काफी समय है। 

.
.
.
.
.