Sports

नई दिल्ली : खेल कोई भी हो फिटनेस को हमेशा अहम माना जाता है। खास तौर पर जब से टी-20 क्रिकेट का आगमन हुआ है प्रत्येक क्रिकेटर के फिट रहना अनिवार्य बन गया है। कुछ इन्हीं मुद्दों पर बात करते हुए भारत के तेज गेंदबाज इरफान पठान ने कहा है कि फिटनेस जितनी महत्वपूर्ण आज है उतनी ही पहले भी थी। इरफान ने कहा- भारतीय टीम में शामिल होने के लिए 2017 से यो यो टेस्ट को कंपलसरी कर दिया गया था लेकिन अगर यह टेस्ट 10-15 पहले भी लागू कर दिया गया होता तो भी इसका असर भारतीय खिलाडिय़ों पर नहीं पडऩा था। 

Image result for sachin kaif punjab kesari sports

रोड सेफ्टी लीग में इंडिया लेजेंड्स की तरफ से खेल रहे इरफान पठान ने दरअसल एक सवाल पूछा गया था कि उन्हें क्या लगता है कि करीब एक दशक पहले वो कौन से खिलाड़ी होते जोकि यो-यो टेस्ट पास कर लेते। उक्त सवाल का जवाब देते हुए इरफान पठान ने सबसे पहले खुद का नाम लेने के अलावा सचिन तेंदुलकर और मोहम्मद कैफ का नाम लिया। इरफान ने कहा- सचिन शुरू से ही फिटनेस को लेकर सतर्क रहते थे। वहीं, मोहम्मद कैफ से तेज विकेटों के बीच कोई नहीं भागता।

कोहली में नहीं है सचिन जितना धैर्य : इरफान

Image result for irfan pathan punjab kesari sports
इंटरव्यू के दौरान पठान ने विराट कोहली पर भी बात की। उन्होंने कहा कि विराट भले ही अच्छे बल्लेबाज है लेकिन वह सचिन तेंदुलकर के आसपास भी नहीं हैं। इरफान ने कहा- विराट के पास सचिन जैसा धैर्य नहीं है। जबकि सचिन के पास इसकी पर्याप्त मात्रा होती थी।

.
.
.
.
.