Sports

मुंबई : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) के अध्यक्ष ग्रेग बार्कले ने शुक्रवार को कहा कि अगर आईपीएल जैसी टी20 लीग की आयोजन अवधि बढ़ेगी तो अंतरराष्ट्रीय टीमों के बीच द्विपक्षीय मुकाबले कम हो सकते हैं। आईपीएल में इस सत्र में दो नई टीमों के जुड़ने के बाद मैचों की संख्या 74 हो गई। पिछले सत्र में कुल 60 मैच खेले गए थे।

PunjabKesari

यह पूछे जाने पर कि आईपीएल और अंतरराष्ट्रीय कैलेंडर के बीच संतुलन कैसे बनाया जाए बार्कले ने कहा कि यह एक अच्छा प्रश्न है। आईपीएल और इस तरह की कुछ अन्य घरेलू लीग के मैचों में बढ़ोतरी के साथ नई लीग भी शुरू होगी। लेकिन ऐसी घरेलू प्रतियोगिताएं सदस्य देशों के अधिकार क्षेत्र में है। वे इसे अपनी इच्छानुसार चला सकते हैं। लेकिन इसका अधिक आयोजन और लंबी अवधि तक चलने का मतलब है कि अंतरराष्ट्रीय टीमों के बीच द्विपक्षीय मुकाबलों में कमी आयेगी। हम जानते हैं कि साल में सिर्फ 365 दिन होते हैं।

आईसीसी अध्यक्ष ने हालांकि आईपीएल की प्रशंसा करते हुए कहा कि उन्हें चकाचौंध से भरपूर यह लीग पसंद है। उन्होंने कहा कि मैं दो साल तक यात्रा करने में सक्षम नहीं रहा। भारत में वापस आना बहुत अच्छा है। आईपीएल के लिए यह मेरी पहली यात्रा है। सेमीफाइनल (प्लेऑफ) और फाइनल मुकाबले है। मुझे आईपीएल पसंद है, यह एक शानदार प्रतियोगिता है।  मुझे लगता है कि भारत और बीसीसीआई ने क्रिकेट के साथ कुछ अद्भुत किया है। यह एक ऐसी प्रतियोगिता है, जिसे देखना और उसका हिस्सा बनना सम्मान की बात है। उन्होंने बताया कि 2024-2031 चक्र के लिए आईपीएल के मीडिया अधिकार जारी होने के बाद मीडिया अधिकार निविदा जारी करेगी। 

उन्होंने कहा कि मैं इसे लेकर काफी उत्साहित हूं कि मीडिया अधिकारों को लेकर काफी रुचि है। मुझे लगता है कि कुछ बहुत ही विश्वसनीय ‘पार्टियां' हैं, जो आईसीसी के साथ काम करने में सक्षम होगी और वे सभी क्रिकेट के विकास में सकारात्मक योगदान देने में सक्षम होंगे। आईसीसी ने 2025 चैंपियंस ट्रॉफी पाकिस्तान को आवंटित की है और बार्कले ने इस फैसले का बचाव किया है। उन्होंने कहा कि भू-राजनीतिक घटनाएं मेरे (नियंत्रण) से परे हैं। एक जोखिम है कि भारत उस आयोजन में भाग लेने में सक्षम नहीं हो सकता है, लेकिन उम्मीद है कि उस समय चीजें ठीक होंगी। 

.
.
.
.
.