Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर और मौजूदा कमेंटेटर माइकल स्लेटर आईपीएल 2021 के बायो बबल को छोड़कर मालदीव चले गए हैं। एक न्यूज रिपोर्ट में ये बात सामने आई है। स्लेटर के मालदीव जाने की वजह ऑस्ट्रेलियाई सरकार को उस फैसले को बताया गया है जिसमें यह स्पष्ट किया था कि आईपीएल में हिस्सा ले रहे ऑस्ट्रेलियाई खिलाड़ियों और अन्य को स्वदेश लौटने की व्यवस्था स्वयं करनी होगी।

स्लेटर ने इससे पहले एक ट्वीट करते हुए ऑस्ट्रेलियाई प्रधानमंत्री स्कॉट मॉरिसन को लताड़ा था। उन्होंने कहा था कि मैं उनके इस फैसले से सहमत नहीं हूं। अगर सरकार हमारी सुरक्षा चाहती है तो उन्हें हमें अपने देश वापस आने देना चाहिए। यह बहुत ही शर्मनाक है। प्रधानमंत्री आपके हाथ खून से रंगे हुए हैं। आपकी हिम्मत कैसे हुई हमारे साथ ऐसा बर्ताव करने की। आपके क्वारंटीन सिस्टम का क्या हुआ? स्लेटर ने आगे कहा कि मेरे पास सरकार की परमिशन थी कि मैं आईपीएल में जाकर काम कर सकता हूं लेकिन अब सरकार इसे नजरअंदाज कर रही है। 

वहीं ऑस्ट्रेलियाई पीएम ने स्लेटर की टिप्पणी को बेतुका करार देते हुए कहा था कि ऐसा अधिक से अधिक लोगों की सुरक्षित घर वापसी और ऑस्ट्रेलिया को तीसरी लहर से बचाने के लिए किया गया है। उन्होंने ये भी कहा, हर सिस्टम को कुछ जटिलताओं का सामना करना पड़ता है और मैं यह सिस्टम नहीं तोड़ने वाला हूं। मैं जो करने जा रहा हूं और वह इस सिस्टम की सुरक्षा के लिए उचित कार्रवाई है ताकि मैं अधिक ऑस्ट्रेलियाई लोगों को सुरक्षित घर पहुंचा सकूं और ऑस्ट्रेलियाई जनता को लंबे समय तक सुरक्षित रख पाऊं। 

ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट बोर्ड के अध्यक्ष निक हॉकले ने खिलाड़ियों की वापसी कर कहा था कि इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) समाप्त होने के बाद कोविड-19 से बुरी तरह प्रभावित भारत से आस्ट्रेलियाई क्रिकेटरों को स्वदेश लाने के लिए चार्टर्ड विमान की व्यवस्था करने की अभी उनकी कोई योजना नहीं है। 

.
.
.
.
.