Sports

पल्लेकेल : ऑस्ट्रेलियाई तेज गेंदबाज मिचेल स्टार्क अभी भी श्रीलंका के खिलाफ वनडे श्रृंखला में शामिल होने की उम्मीद कर रहे हैं, लेकिन वह इसके लिए टेस्ट क्रिकेट में खेलने की संभावनाओं से समझौता नहीं करना चाह रहे हैं। श्रीलंका के खिलाफ खेली गई टी20 सीरीज के पहले मैच में स्टार्क के उंगलियों में चोट लग गई थी। 32 वर्षीय स्टार्क हाल के दिनों में ट्रेनिंग के दौरान पूरी ताक़त के साथ गेंदबाजी करने में सक्षम रहे हैं, लेकिन आईसीसी के नियमों के अनुसार गेंदबाज अपनी उंगलियों पर टेप का इस्तेमाल नहीं कर सकते। इसी कारण से स्टार्क फिलहाल मैदान पर वापसी नहीं कर पा रहे हैं। 


स्टार्क ने  उंगलियों से टांके हटा दिए थे। हालांकि वह पूरी तरह से फिट हैं या नहीं इसका पता तब चलेगा जब वह तीसरे वनडे में खेलते हैं। अगर वह नहीं खेलते हैं तो इसका मतलब होगा कि अभी भी वह पूरी तरह से फिट नहीं हैं। वह पांच मैचों की वनडे श्रृंखला में कम से कम कुछ मैच खेलने के लिए आशान्वित हैं, लेकिन वापसी को लेकर वह किसी तरह की जल्दबाजी नहीं करना चाहते ताकि वह टेस्ट क्रिकेट में शामिल हो सकें।

वनडे श्रृंखला में खेलने की अपनी संभावनाओं के बारे में स्टार्क ने कहा कि मैं अभी भी उम्मीद कर रहा हूं कि मुझे इस श्रृंखला में खेलने का मौका मिल सकता है। चोट अभी पूरी तरह से ठीक नहीं हुई है। यह अगले कुछ दिनों में थोड़ा बेहतर हो जाएगा। एक बार जब हम कोलंबो पहुंचेंगे तो फिर से चेक अप के बाद पता चल पाएगा कि चोट में कितनी बेहतरी आई है। मैं अभी भी प्रशिक्षण ले रहा हूं। जाहिर तौर पर टेस्ट सीरीज पर भी मेरी नजर है और इससे मैं कोई समझौता नहीं करना चाहता हूं।

स्टार्क ने कहा कि मुझे महसूस हो रहा है कि मैं फिट हूं लेकिन इसके बावजूद मैं मैदान पर वापसी नहीं कर पा रहा हूं। यह बहुत निराशजनक है। मैं नेट्स में बढिय़ा गेंदबाजी कर रहा हूं। मुझे टेप के साथ प्रशिक्षण में गेंदबाजी करनी पड़ी रही है। आईसीसी के नियमों के कारण में उंगलियों में टेप लगा कर गेंदबाजी नहीं कर सकता। इसलिए मैं नहीं खेल रहा हूं।

.
.
.
.
.