Sports

कोलकाता : पूर्व कप्तान बाईचुंग भूटिया का कहना है कि भारतीय फुटबाल टीम की अग्रिम पंक्ति काफी हद तक सुनील छेत्री के प्रदर्शन पर निर्भर करती है और गोल करने के मौके बनाने के लिए दूसरे खिलाडिय़ों को भी खेल के स्तर को ऊंचा करना होगा। भूटिया ने कहा कि टीम की रक्षा पंक्ति ने विश्व कप क्वालीफायर के पिछले दो मुकाबलों में अच्छा खेल दिखाया और 15 अक्टूबर को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले मुकाबले में अग्रिम पंक्ति पर मैच जीतने की जिम्मेदारी होगी।

भूटिया ने कहा- हमारी मुख्य चिंता रक्षा पंक्ति की रही है और अगर टीम अपने प्रदर्शन को बनाये रखती है तो अच्छा होगा। अब बांग्लादेश के खिलाफ मैच अग्रिम पंक्ति के खिलाडिय़ों के लिए बड़ी परीक्षा होगा। अब रक्षा पंक्ति की जगह अग्रिम पंक्ति को योगदान करना होगा। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कतर के खिलाफ (ड्रा मैच में) भारत ने अच्छा बचाव किया। हमें निश्चित रूप से अधिक गोल करने वाले खिलाड़ी की जरूरत है।

भूटिया ने कहा- हमें गोल करने के मौके बनाने होंगे क्योंकि इस टीम में सिर्फ सुनील (छेत्री) ही है जो गोल करने में सक्षम है। अगर वह नहीं खेल रहे या गोल करने में नाकाम रहते हैं तो टीम के लिए मुश्किलें बढ़ जाती हैं। भारत को बांग्लादेश के खिलाफ यहां 15 अक्टूबर को विश्व कप क्वालीफायर का अपना तीसरा मुकाबला खेलना है। 

.
.
.
.
.