Sports

नई दिल्ली : एशियाई फुटबॉल परिसंघ के मलेशिया की राजधानी कुआलालम्पुर स्थित मुख्यालय में गुरुवार को एएफसी एशिया कप चीन 2023 के अंतिम दौर के क्वालिफायर मुकाबलों का शेड्यूल जारी किया गया। भारत को ग्रुप डी में हांगकांग, अफगानिस्तान और कंबोडिया के साथ रखा गया है। 

टूर्नामेंट का यह आखिरी चरण आठ जून को कोलकाता के विवेकानंद युवा भारती क्रीड़ांगन में शुरू होगा और इस दिन भारतीय फुटबॉल टीम कंबोडिया से भिड़ेगी, जबकि उसके अगले दो मैच 11 जून को अफगानिस्तान और 14 जून को हांगकांग के खिलाफ होंगे। टूर्नामेंट में भाग लेने वाली 24 टीमों को छह समूहों में विभाजित किया गया है, जिसमें छह ग्रुप विजेता टीमें और दूसरे स्थान पर रहने वाली पांच सर्वश्रेष्ठ टीमें चीन में होने वाले एएफसी एशिया कप 2023 के लिए क्वालीफाई करेंगी। 

उल्लेखनीय है कि भारतीय फुटबॉल टीम ने फीफा विश्व कप कतर 2022 और एएफसी एशियाई कप चीन 2023 के संयुक्त क्वालीफायर के दूसरे दौर में ग्रुप ई में तीसरे स्थान पर रहने के बाद एएफसी एशिया कप क्वालीफायर के तीसरे और अंतिम दौर में जगह बनाई थी। भारतीय टीम के मुख्य कोच इगोर स्टिमैक ने शेड्यूल के बारे में कहा, ‘शेड्यूल हमेशा अच्छा या बुरा हो सकता है, लेकिन हमें अपना काम करने की जरूरत है। हमारी योजना मई के पहले हफ्ते से कोलकाता में अपना तैयारी शिविर शुरू करने की है, लेकिन मुंबई सिटी एफसी के खिलाड़ी एएफसी चैंपियंस लीग में क्लब की प्रतिबद्धताओं के कारण 29 मई से पहले उपलब्ध नहीं होंगे। 

वहीं एटीके मोहन बागान के भी एएफसी कप में शामिल होने की संभावना है और उनके खिलाड़ी भी 25 मई तक अनुपलब्ध रहेंगे। इन दोनों क्लबों के लगभग 12 या इससे अधिक खिलाड़ी राष्ट्रीय टीम का हिस्सा हैं। ऐसे में हमें अन्य खिलाड़यिों को आजमाने, उन्हें तैयार करने और अन्य खिलाड़यिों के टीम में शामिल होने का इंतजार करने की जरूरत है। मौजूदा स्थिति काफी हद तक मार्च में होने वाले मैत्री मैचों जैसी ही है।' उल्लेखनीय है कि भारतीय फुटबॉल टीम को 23 और 26 मार्च को क्रमश: बहरीन और बेलारूस के साथ दो अंतरराष्ट्रीय मैत्री मैच खेलने हैं। 

.
.
.
.
.