Sports

दोहा : गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू ने फिर से बेहतरीन खेल का प्रदर्शन किया जिससे 18वें मिनट के बाद 10 खिलाडिय़ों के साथ खेल रहा भारत यहां विश्व कप फुटबॉल क्वालीफाइंग मैच में एशियाई चैंपियन कतर के खिलाफ बड़ी हार से बच गया लेकिन 0—1 की पराजय से वह अंक बांटने में नाकाम रहा। कतर ने गुरुवार की रात को खेले गए मैच में शुरू से लेकर आखिर तक दबदबा बनाए रखा। उसकी तरफ से अब्देल अजीज ने 33वें मिनट में गोल किया जो आखिर में निर्णायक साबित हुआ। इन दोनों टीमों के बीच सितंबर 2019 में पहले चरण का मैच गोलरहित बराबर छूटा था। उस मैच में भी संधू ने शानदार खेल दिखाया था।

भारत को 18वें मिनट से ही 10 खिलाडिय़ों के साथ खेलना पड़ा। राहुल भेके को बॉक्स के बाहर गेंद पर हाथ लगाने के कारण दूसरा पीला कार्ड मिलने से मैदान छोडऩा पड़ा था। इससे पहले उन्हें नौवें मिनट में पीला कार्ड मिला था। भारत पहले ही विश्व कप में जगह बनाने की दौड़ से बाहर हो चुका है लेकिन वह एशियाई कप 2023 में जगह बनाने की दौड़ में शामिल है।

इगोर स्टिमक की भारतीय टीम को इस संयुक्त क्वालीफायर में अब दो मैच खेलने हैं। वह सात जून को बांग्लादेश और 15 जून को अफगानिस्तान का सामना करेगा। ग्रुप में शीर्ष पर चल रहे कतर ने अभी तक कोई मैच नहीं गंवाया है। उसने शुरू से गेंद पर कब्जा बनाये रखा। संधू के लाजवाब प्रदर्शन से भारत बड़ी हार से बच गया। उन्होंने ग्रुप ई के इस मैच में कम से कम नौ बचाव किए। कतर ने भारतीय गोल में 29 शॉट लगाए थे जबकि भारतीय टीम ऐसा एक बार भी नहीं कर पायी।

भारत ने जवाबी हमले में दो अच्छे प्रयास किए थे लेकिन मनवीर सिंह इन्हें भुनाने में नाकाम रहे। कोविड—19 से उबरने के बाद वापसी करने वाले सुनील छेत्री की जगह दूसरे हाफ में उदांता सिंह को मैदान पर उतारा गया था। भारत ने अब तक एक भी मैच नहीं जीता है और वह छह मैचों में तीन अंक के साथ चौथे स्थान पर बना हुआ है। वह तीसरे स्थान की टीम अफगानिस्तान से दो अंक पीछे है। अफगानिस्तान ने इससे पहले एक अन्य मैच में बांग्लादेश को 1—1 से बराबरी पर रोका। 

फेलिक्स सांचेज की अगुवाई वाले कतर ने पहले मिनट से ही भारत को दबाव में ला दिया था लेकिन अब्देलकरीम हसन का शॉट बॉक्स के बाहर चला गया। हसन को इसके बाद चौथे मिनट में भी मौका मिला था लेकिन संधू ने उनका प्रयास नाकाम कर दिया। कतर ने हमले जारी रखे और एक खिलाड़ी बाहर होने के बावजूद संधू के शानदार प्रयास से भारत ने उसे गोल से वंचित रखा। मध्य पंक्ति में ग्लैन मार्टिन्स, विपिन सिंह और सुरेश सिंह वांगजैम ने भी अच्छा खेल दिखाया। भारत के पास पहला मौका 29वें मिनट में आया था लेकिन मनवीर इसका फायदा नहीं उठा पाए।

कतर ने 33वें मिनट में बढ़त हासिल की। अब्देल अजीज हातिम को मोहम्मद मुंतारी से पास मिला लेकिन उनका पहला शॉट टकराकर वापस उनके पास पहुंच गया और इस बार इस खिलाड़ी ने गोल करने में कोई गलती नहीं की। भारत ने 42वें मिनट में जवाबी हमला किया। छेत्री ने बासम अलरावी को छकाकर मनवीर को गेंद थमायी लेकिन उनका शॉट कतर के एक डिफेंडर ने रोक दिया। संधू ने इसके बाद कतर को निराश किया। उन्होंने अब्देलकरीम हसन के 47वें मिनट में और मुंतारी के 53वें मिनट में करीब से लगाये शॉट का अच्छा बचाव किया। 

.
.
.
.
.