Sports

नई दिल्ली : मुंबई वनडे में टीम इंडिया को 10 विकेट से हराने के बाद ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कप्तान एरोन फिंच ने कहा कि बीच के ओवरों में उनकी टीम ने जिस तरह संघर्ष कर वापसी की वह काफी प्रभावशाली थी। इसी कारण हम मैच में वापस आ गए। शिखर और केएल अच्छी बल्लेबाजी कर रहे थे। इसलिए, लड़के जिस तरह मैच में वापस आए उसपर मुझे गर्व है। हम अभी भी मैदान में थोड़ा अच्छा कर सकते हैं लेकिन कभी-कभी ऐसा होता है जब आउटफील्ड थोड़ा नम होता है। कुल मिलाकर टीम ने अच्छा प्रदर्शन किया।

फिंच बोले- भारत को भारत में हराना हमेशा से कठिन रहा है। वहीं, वार्नर की वापसी पर उन्होंने कहा कि यह शानदार था। खासतौर पर खेल के इस प्रारूप में। वह काफी समय से अजेय है। काफी खास है। एक बार जब वह लय में आ जाता है तो उसके पास स्कोर करने के लिए बहुत सारे विकल्प होते हैं। उसके साथ बल्लेबाजी करना हमेशा शानदार होता है। भारत गुणवत्ता भरी टीम है। अब हम उनसे सीरीज में वापसी की उम्मीद कर सकते हैं।

बता दें कि मैच के दौरान एरोन फिंच ने भी वनडे करियर के 17 शतक पूरे कर ली। अब एरोन हमवत्न एडम गिलक्रिस्ट (16) को पीछे छोड़ गए हैं। इसके बाद ही फिंच ने भारत के खिलाफ अपनी जोरदार फॉर्म को भी बरकरार रखा। टीम इंडिया के खिलाफ ओपनिंग पर हुई चार शतकीय साझेदारियों में एरोन फिंच का नाम है। फिंच ने वार्नर के साथ मिलकर 258 रनों की साझेदारी की जोकि भारत के खिलाफ सबसे बड़ी है।

.
.
.
.
.