Sports

दुबई : पिछले 2 वर्षों से टेस्ट टीम से बाहर चल रहे सलामी बल्लेबाज शिखर धवन ने रविवार को कहा कि उन्होंने भारतीय टीम में वापसी की उम्मीद नहीं छोड़ी है और आगामी मौकों को भुनाकर वह टेस्ट टीम में जगह बनाने की कोशिश करेंगे। इस 34 वर्षीय खिलाड़ी ने अपना आखिरी टेस्ट मैच इंग्लैंड के खिलाफ सितंबर 2018 में ओवल में खेला था।

धवन ने एक टीवी चैनल से कहा, ‘मैं टेस्ट टीम का हिस्सा नहीं हूं, इसका मतलब यह नहीं है कि मैंने वापसी की उम्मीद छोड़ दी है।' उन्होंने कहा, ‘जब भी मुझे मौका मिला तब मैंने उसे भुनाया। जैसे पिछले साल रणजी ट्राफी में मैंने शतक लगाया और एकदिवसीय टीम में वापसी की। अगर मुझे मौका मिलता है तो फिर निश्चित तौर मैं ऐसा कर सकता हूं।'

रोहित शर्मा, केएल राहुल, मयंक अग्रवाल और पृथ्वी शा की मौजूदगी में टेस्ट टीम में सलामी बल्लेबाज के लिए काफी प्रतिस्पर्धा है लेकिन बाएं हाथ का यह बल्लेबाज फिर भी आशान्वित है। उन्होंने कहा, ‘मैं अपना सर्वश्रेष्ठ करने की कोशिश करता रहूंगा। अगले साल टी20 विश्व कप है इसलिए मुझे लगातार अच्छा प्रदर्शन करते रहना होगा, खुद को फिट रखना होगा और लगातार रन बनाने होंगे।'

धवन ने कहा, ‘अगर मैं ऐसा करने में सफल रहता हूं तो चीजें खुद ही मेरे अनुकूल होंगी।' धवन ने अब तक 34 टेस्ट मैचों में 40.61 की औसत से 2315 रन बनाए हैं जिसमें सात शतक शामिल हैं। वह अब भी वनडे और टी20 टीम में जगह बनाने के दावेदारों में हैं और इसलिए संयुक्त अरब अमीरात में होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में अच्छा प्रदर्शन करना चाहते हैं। इस समय वह दिल्ली कैपिटल्स की तरफ से खेलेंगे। 

.
.
.
.
.