Sports

नई दिल्ली : हॉकी इंडिया ने नीदरलैंड की महिला हॉकी टीम के 19 और 20 फरवरी को भारतीय महिला टीम के खिलाफ आगामी दो एफआईएच प्रो लीग मुकाबलों के लिए भुवनेश्वर की यात्रा को रद्द करने पर आश्चर्य और निराशा जताई है। समझा जाता है कि नीदरलैंड की टीम ने केएनएचबी (रॉयल डच हॉकी एसोसिएशन) स्वास्थ्य समिति और एनओसी मेडिकल स्टाफ की सलाह पर भारत की अपनी यात्रा को रद्द किया है। 

Sports

हॉकी इंडिया के अध्यक्ष ज्ञानेंद्रो निंगोमबम ने गुरुवार को नीदरलैंड के फैसले पर टिप्पणी करते हुए कहा कि हॉकी इंडिया केएनएचबी स्वास्थ्य समिति द्वारा दी गई नकारात्मक चिकित्सा रिपोर्ट के मद्देनजर नीदरलैंड के एफआईएच महिला हॉकी प्रो लीग के दो मैचों के लिए भारत की अपनी यात्रा रद्द करने के फैसले से काफी हैरान है, जो भुवनेश्वर में 19 और 20 फरवरी को होने वाले थे। 

भारत में कोरोना की पॉजिटिविटी रेट 5 प्रतिशत से कम होने के साथ हम तीन महीने पहले उसी स्थान पर आयोजित एफआईएच हॉकी पुरुष जूनियर विश्व कप के समान सुरक्षित बायो-बबल में मैचों की सफलतापूर्वक मेजबानी करने के लिए आश्वस्त थे, जहां 16 टीमों ने भाग लिया था। उल्लेखनीय है कि हाकी इंडिया नीदरलैंड की टीम के अगले सप्ताह होने वाले इन दो पूर्व सहमत मैचों के लिए भारत न आने के फैसले के पीछे की वजह जानने के लिए फिलहाल एफआईएच के संपर्क में है। 

.
.
.
.
.