Sports

नई दिल्ली : भारतीय ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या ने आज ही के दिन तीन साल पहले खेल के सबसे लंबे प्रारूप में अपना पहला शतक दर्ज लगाया था। उन्होंने पल्लेकेले अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट स्टेडियम में तीन मैचों की श्रृंखला के अंतिम टेस्ट में श्रीलंका के खिलाफ यह उपलब्धि हासिल की। पहले बल्लेबाजी करते हुए भारत ने जबरदस्त शुरुआत की थी। सलामी बल्लेबाज शिखर धवन और केएल राहुल ने पहले विकेट के लिए 188 रन जोड़े। धवन ने 119 रनों की पारी खेली जबकि राहुल ने 85 रन बनाए।
पहला दिन का खेल खत्म होने पर टीम इंडिया का स्कोर 296/5 रन था। दूसरे दिन हार्दिक पांड्या ने आते ही तेजतर्रार शॉट लगाए और शतक बना लिया। हार्दिक ने अपनी धुआंधार पारी के दौरान आठ चौके और सात छक्के लगाए। भारतीय टीम ने पहली पारी में 487 रन बनाए। खास बात यह रही कि भारतीय टीम ने श्रीलंका को पहली पारी में कुलदीप यादव के चार विकेटों के कारण 135 रनों पर ढेर कर दिया था।

इसके बाद भारत ने फॉलोऑन लागू किया लेकिन श्रीलंका के पास इसका जवाब नहीं था। वह दूसरी पारी में 181 रनों पर सिमेट गया। रवि अश्विन ने चार विकेट लिए। इस तरह विराट कोहली की अगुवाई वाली टीम ने पारी और 171 रनों से मैच जीता।

बता दें कि हार्दिक पांड्या जो पीठ की चोट के कारण भारतीय टीम से बाहर थे, को भारत के दक्षिण अफ्रीका दौरे के दौरान वापसी करनी थी। हालांकि, श्रृंखला का पहला मैच बारिश के कारण समाप्त हो गया था, क्योंकि श्रृंखला को कोरोनोवायरस के प्रकोप के बाद अंतत: स्थगित कर दिया गया था। 26 वर्षीय क्रिकेटर ने 11 टेस्ट, 54 वनडे और 40 टी-20 मैच खेले हैं। वह सभी फॉर्मेट मिलाकर 1,799 रन बना चुके हैं जबकि 109 विकेट भी हासिल कर चुके हैं। 

.
.
.
.
.