Sports

 

नई दिल्ली : अर्जुन पुरस्कार पाने वाले पहले मोटरस्पोर्ट्स चालक बने गौरव गिल ने शुक्रवार को कहा कि अगले सप्ताह से शुरू होने वाली रैली आफ तुर्की में उनकी कोशिश शीर्ष पांच में रहने की होगी। वह इस रेस के जरिए एफआईए विश्व रैली चैम्पियनशिप दो में अपनी दूसरी पारी का आगाज करेंगे। रैली आफ तुर्की का आयोजन 12 से 15 सितंबर तक होगा।

तीन बार के एपीआरसी और छह बार के आईएनआरसी चैम्पियन गिल इसमें एम-स्पोर्ट्स द्वारा विकसित 1.6 टर्बो फोर्ड फिएस्टा आर-पांच का इस्तेमाल करेंगे। एमआरएफ से अपनी लंबी साझेदारी खत्म कर जेके टायर मोटरस्पोर्ट्स से जुड़े गिल ने कहा, ‘मैं ऐसा खिलाड़ी नहीं हूं जो किसी उपलब्धि के बाद बैठ जाए। मैंने अभी नई कार का परीक्षण नहीं किया है जो आदर्श स्थिति नहीं है लेकिन मेरा पास जो भी समय है मैं उसका इस्तेमाल करना चाहूंगा।' 

37 साल के गिल को रैली ऑफ तुर्की में बजरी (ग्रेवल) वाली सड़क पर गाड़ी चलाना है जिसे वह पसंद करते है। गिल ने कहा, ‘मैं इस साल कार, सतह और अपने मजबूत पक्ष को देखते हुए सावधानी से रैलियों का चयन करूंगा। तुर्की में अभी काफी गर्मी होगी और अच्छी बात यह है कि मुझे भारत में ऐसे मौसम का अनुभव है।'' उन्होंने कहा, ‘कार के अंदर तापमान 50-60 डिग्री सेल्सियस तक चला जाता है लेकिन मैं इसके लिए तैयार हूं। मैंने अपनी ड्रेस पहन कर ‘सौना' में बहुत समय बिताया है और इससे मुझे गर्मी से निपटने में मदद मिलनी चाहिए। इसके अलावा मैंने दिल्ली में दोपहर के समय में काफी ड्राइविंग की है।' वह पहली बार एक पंजीकृत ड्राइवर के रूप में इस स्पर्धा में भाग लेंगे और चैंपियनशिप अंक हासिल करेंगे। 

.
.
.
.
.