Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: पूर्व भातरीय कप्तान सौरभ गांगुली ने सोमवार को भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड के अध्यक्ष पद के लिए नामांकन भरा। इस पद के लिए अकेले उम्मीदवार होने के कारण गांगुली का बीसीसीआई अध्यक्ष बनाना तय है। लेकिन बीसीसीआई का अध्यक्ष बनने का रास्ता उनके लिए आसान नहीं था क्योंकि बृजेश पटेल को भी इस पद का दावेदार माना जा रहा था। ऐसे में नए अवतार में अपने घर पहुंचकर सौरव गांगुली का भव्य स्वागत हुआ। बता दें कि क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल ने रेड कार्पेट बिछाकर प्रिंस ऑफ बंगाल कहे जानेवाले 'दादा' का स्वागत किया। 

PunjabKesari
नए अवतार में अपने गृहनगर पहुंचे गांगुली का भव्य स्वागत हुआ। क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ बंगाल ने रेड कार्पेट 'महाराज' का स्वागत किया। उनके ऊपर फूलों की भी बरसात की गई। एक समय के लिए ईडन गार्डन का ट्रैफिक मानों रूक सा गया। लोग 'प्रिंस ऑफ कोलकाता' की एक झलक देखने को बेताब थे। फैंस ने अपनी गाड़ियों से बाहर आकर पटाखे जलाकर गांगुली के प्रति अपनी खुशी का इजहार किया। 

PunjabKesari
आपको बता दें कि गांगुली की क्रिकेट करियर में एक नजर डाले तो सौरव गांगुली ने 1996 में इंग्लैंड के खिलाफ अपने पहले ही टेस्ट में शतक जड़कर अपने टेस्ट करियर जोरदार आगाज किया था। उन्होंने 49 टेस्ट और 147 वनडे मैचों में भारत की कप्तानी की। बाएं हाथ के स्टाइलिश बल्लेबाज सौरव गांगुली ने अपने करियर में 113 टेस्ट मैचों में 42.17 की औसत से 7212 रन बनाए, जिनमें 16 शतक और 35 अर्धशतक शामिल हैं। वहीं 311 वनडे मैचों में उन्होंने 41.02 की औसत से 11363 रन बनाए, जिनमें 22 शतक और 72 अर्धशतक शामिल हैं। 

.
.
.
.
.