Sports

नई दिल्ली : भारत के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कहा कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ आगामी टी-20 श्रृंखला के लिये उन्हें महेंद्र सिंह धोनी के चुने जाने की उम्मीद नहीं थी और टीम प्रबंधन ने युवा ऋषभ पंत को चुनकर एकदम सही फैसला लिया है। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट में 38 बरस के धोनी के भविष्य को लेकर काफी अटकलें लगाई जा रही है। गांगुली ने कहा- मुझे नहीं लगता था कि दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ श्रृंखला के लिए उसका चयन होगा। 

Ganguly did not expect Dhoni to be selected in T20 squad, said this

गांगुली बोले- वेस्टइंडीज के खिलाफ टी20 श्रृंखला से ही संकेत मिल गया कि वे पंत को और मौके देना चाहते हैं। यह सही भी है क्योंकि जब धोनी भी युवा था, तब उसे मौके दिए गए। गांगुली ने हालांकि कहा कि यह पेचीदा स्थिति है जिससे कप्तान विराट कोहली को निपटना होगा। उन्होंने कहा- विराट की भूमिका काफी अहम है कि वह धोनी से क्या कहना है। यह कहना मुश्किल है कि उसकी धोनी से क्या अपेक्षाएं हैं लेकिन मुझे नहीं लगता कि धोनी के संन्यास को लेकर अटकलबाजी होनी चाहिए। 

Ganguly did not expect Dhoni to be selected in T20 squad, said this

उन्होंने कहा- हर क्रिकेटर के जीवन में ऐसा पल आता है। हर खिलाड़ी के जीवन में। माराडोना, सम्प्रास, तेंदुलकर और अब धोनी। आप उस उम्र में पहुंच जाते हैं कि ऐसी स्थिति आती है। गांगुली ने यह भी कहा कि पंत की तुलना धोनी से नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने कहा- वह एम एस धोनी नहीं है और ना ही अगले 3-4 साल में बन जाएगा। धोनी को ‘द एम एस धोनी’ बनने में 15 साल लगे। वह भारतीय क्रिकेट की खास जमात का हिस्सा है।

.
.
.
.
.