Sports

कोलकाता : पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़, मुख्यमंत्री ममता बनर्जी, एशियाई फुटबॉल परिसंघ, अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ सहित खेल जगत ने महान फुटबॉलर पीके बनर्जी को भावभीनी श्रद्धांजलि दी है। भारत के महान फुटबॉलर, पूर्व ओलम्पियन और पूर्व कोच प्रदीप कुमार बनर्जी का शुक्रवार रात निधन हो गया था। वह 83 वर्ष के थे। 

PunjabKesari

एशियाई फुटबॉल परिसंघ (एएफसी) के अध्यक्ष शेख सलमान बिन अल खलीफा ने अखिल भारतीय फुटबॉल महासंघ (एआईएफएफ) के अध्यक्ष प्रफुल पटेल को अपना शोक सन्देश भेजा है और कहा है कि भारतीय और एशियाई फुटबॉल में उनका योगदान हमेशा याद रखा जाएगा। राज्यपाल धनखड़ ने बनर्जी के घर जाकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

PunjabKesari

उन्होंने कहा  कि पीके के निधन से एक युग का समापन हो गया है। फुटबॉल पश्चिम बंगाल के लिए विशेष है और पीके फुटबॉल के लिए विशेष थे। उन्होंने खेल को समर्पित 50 वर्षों में कई पीढि़यों को तैयार किया। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने शोक व्यक्त करते हुए कहा कि पीके बनर्जी के निधन से भारतीय खेलों को अपूरणीय क्षति हुई है। उन्होंने कहा कि पीके का भारतीय फुटबॉल में योगदान हमेशा याद रखा जाएगा।

PunjabKesari

एआईएफएफ के अध्यक्ष प्रफुल पटेल और महासचिव कुशल दास ने बनर्जी के निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है। एआईएफएफ के नयी दिल्ली के द्वारका स्थित मुख्यालय फुटबॉल हाउस में एआईएफएफ का ध्वज बनर्जी के सम्मान में आधा झुका दिया गया है। क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर, पूर्व कप्तान तथा भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोडर् (बीसीसीआई) के अध्यक्ष सौरभ गांगुली तथा बंगाल के विकेटकीपर रिद्धिमान साहा ने बनर्जी के निधन पर शोक व्यक्त करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है। भारतीय फुटबॉल कप्तान सुनील छेत्री ने भी बनर्जी के निधन पर शोक जताया है।

वरिष्ठ माकपा नेता डॉ सुजान चक्रवर्ती और कोलकाता के मेयर फरहद हकीम ने भी शोक व्यक्त करते हुए कहा कि वह भारतीय खेलों में हमेशा अमर रहेंगे। करीब 51 साल तक भारतीय फुटबॉल की सेवा करने वाले महान फुटबॉलर बनर्जी भारतीय फुटबॉल के स्वर्णिम दौर के साक्षी रहे थे। फुटबॉल के लिए उनकी सेवाओं के लिए फीफा ने 2004 में उन्हें अपने सर्वोच्च सम्मान फीफा ऑडर्र ऑफ मेरिट से सम्मानित किया था। उन्हें 1961 में अर्जुन पुरस्कार और 1990 में पद्मश्री से सम्मानित किया गया था। 

.
.
.
.
.