Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: पूर्व भारतीय कप्तान और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नए अध्यक्ष सौरव गांगुली ने प्रथम श्रेणी के क्रिकेटरों पर फोकस करने की बात करते हुए उनके लिए खास कदम उठाने की बात की थी। ऐसे में टीम इंडिया के पूर्व कोच अनिल कुंबले ने बीसीसीआई के नए अध्यक्ष सौरव गांगुली से हितों के टकराव के मामले को सुलझाने की बात कही है। 

PunjabKesari
एक वेबसाइट को दिए इंटरव्यूं में अनिल कुंबले ने अपने बयान में कहा, 'मुझे लगता है कि हितों के टकराव को देखने की जरूरत है, क्योंकि इस वजह से कई पूर्व क्रिकेटरों को अपमान हुआ है. इसके नियम ऐसे बनाये गए हैं, जो समझ से परे हैं, इसलिए इस मुद्दे को सुलझाने की जरुरत है। कुंबले ने आगे कहा, 'मुझे उम्मीद है, कि हमारे नए अध्यक्ष सौरव गांगुली व उनकी टीम हितों के टकराव के मामलों को देखेगी और इसे सुलझाएगी।' 

PunjabKesari
आपको बता दें कि इससे पहले एक बेवसाइट से बातचीत के दौरान विनोद राय ने कहा, 'अनिल कुंबले बेस्ट कोच थे और अगर उनके कॉन्ट्रैक्ट में कार्यकाल आगे बढ़ाने का नियम होता तो उसे बढ़ाया जाता। विनोद राय ने कहा, 'अनिल कुंबले उस वक्त सबसे बेस्ट कोच थे। उनके कॉन्ट्रैक्ट में कार्यकाल बढ़ाने का का नियम होता तो करते। मैं अनिल कुंबले की बहुत इज्जत करता हूं।' 

.
.
.
.
.