Sports

मॉस्को ,रूस ( निकलेश जैन ) अगले वर्ष होने वाली विश्व चैंपियनशिप के लिए मेगनस कार्लसन का प्रतिद्वंदी खोजने की प्रक्रिया शुरू हो गयी है और इसके पहले पड़ाव विश्व के चुनिंदा 22 खिलाड़ियों के बीच होने वाली  फीडे ग्रांड की शुरुआत मॉस्को में हो गयी । चयनित 22 खिलाड़ियों में से हर खिलाड़ी को तीन ग्रांड प्रिक्स में भाग लेना है और जो भी दो खिलाड़ी  तीनों में मिलाकर सबसे अच्छा प्रदर्शन करेगा वह फीडे कैंडीडेट के लिए चयनित हो जाएगा । 

PunjabKesari
मॉस्को में चल रही फीडे ग्रांड पिर्क्स इस बार पूरी तरह से नए नियमों के तहत खेली जा रही है । जिससे प्रतियोगिता अब पहले से ज्यादा रोचक हो गयी है । इससे पहले फीडे ग्रांड प्रिक्स एक राउंड रॉबिन मुक़ाबला होता था पर अब इसे नॉक आउट के आधार पर खेला जा रहा है । पिछले कुछ समय से फीडे नें विश्व चैंपियनशिप की पूरी प्रक्रिया को कुछ इस अंदाज में बदला है की अब यह पहले से ज्यादा प्रतिस्पर्धी और परिणाम देने वाली नजर आ रही है । इसी का परिणाम है की अब तक इस प्रतियोगिता में पहले राउंड के बाद अजरबैजान के शाकिरयार ममेद्यारोव , अर्मेनिया के   लेवान अरोनियन , नीदरलैंड के अनीश गिरि और रूस के सेरगी कार्याकिन जैसे दिग्गज बाहर हो चुके है जबकि जल्द ही अंतिम 8 के बीच चल रहे मुक़ाबले में से सिर्फ अंतिम चार बचे रह जाएँगे।

PunjabKesari

 

पोलैंड के राड़ास्लाव नें कल दूसरे राउंड में रूस के पीटर स्वीडलर को मात देते हुए सेमीफ़ाइनल में जगह बना ली है जबकि अब रूस के डेनियल डुबोव और अमेरिका के हिकारु नाकामुरा ,रूस के अलेक्ज़ेंडर ग्रीसचुक और अमेरिका के वेसली सो , चीन के वे यी और रूस के इयान नेपोमनियची के बीच में से जीतने वाला सेमीफ़ाइनल में जगह बना लेगा । 

PunjabKesari

भारत के पेंटाला हरिकृष्णा जो कि वर्तमान में जबरजस्त लय में चल रहे है वह  जुलाई में लातविया , नवंबर में जर्मनी और दिसंबर में इज़राइल में होने वाली फीडे ग्रांड प्रिक्स में नजर आएंगे । 

 

.
.
.
.
.