Sports

नई दिल्ली : प्लेऑफ में पहुंचने के लिए कोलकाता टीम को किंग्स इलेवन पंजाब से मैच जीतने की जरूरत थी मगर वह ऐसा कर नहीं पाए। दो ओवरों में तीन विकेट गंवाने के बाद कोलकाता को कप्तान इयोन मोर्गन ने संभाला लेकिन वह पंजाब को बढ़ा लक्ष्य नहीं दे पाए। मैच के बाद मोर्गन ने हार के कारणों पर चर्चा की और यूएई की पिचों पर अपनी राय दी। 

मोर्गन ने कहा- शारजहा के मैदान पर अगर आप जल्दी विकेट खो देते हैं तो आपको पलटवार करना ही होता है। आपको पहले ही आंकलन करना होता है कि पिच आगे कैसे खेलेगी। हम साझेदारी नहीं कर पाए। इस कारण निराश है। हम और रन बना सकते हैं। जब हम तीन विकेट गंवा चुके थे तो हमें एक साझेदारी चाहिए थी। 180 के आसपास अगर टोटल होता तो यह अच्छा लक्ष्य होता लेकिन हम विकेट गंवाते रहे।

मोर्गन बोले- इस साल यह एक चुनौती बनकर उभरा है। एक मैदान से दूसरे मैदान पर खेलना जहां पिच का स्वभाव अलग-अलग होता है। उम्मीद है कि हम दुबई की स्थितियों से तालमेल बिठा लेंगे। यह टूर्नामेंट की प्रकृति है, कोई खराब पक्ष नहीं हैं। पिछले दो मैचों में हमारा विश्वास अपने हाथों में है। मुझे लगता है कि गिल रन बना रहे थे और 11वें या 12 वें ओवर तक किंग्स को सीमित कर रहे थे, जो पॉजीटिव था।

.
.
.
.
.