Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : राजस्थान रॉयल के खिलाफ बल्लेबाजी में नीचे आने पर धोनी ने बड़ा बयान दिया है। धोनी ने निचले क्रम पर बल्लेबाजी का कारण बताते हुए कहा कि मैंने लंबे समय तक बल्लेबाजी नहीं की है। 14-दिवसीय संगरोध मदद नहीं करता है। मैं साथ ही विभिन्न चीजों को आजमाना चाहता था। इसलिए सैम को अवसर दे रहा था। यहां विभिन्न चीजों को आजमाने का अवसर मिला। यदि यह काम नहीं करता तो आप हमेशा अपनी ताकत पर भरोसा करते हो। वहीं, फाफ बहुत अच्छा प्रदर्शन कर रहे हैं।

PunjabKesari

मुरली विजय के आउट होने के बाद जब सभी को लग रहा था कि धोनी को बल्लेबाज़ी के लिए मैदान पर आना चाहिए तब धोनी ने युवा खिलाडी़ सैम करन को बल्लेबाजी के लिए अपने से ऊपर भेज दिया। सैम करन ने बल्लेबाजी के दौरान दो छक्के और एक चौके की मदद से 6 गेंदो पर 17 रन बनाए। सैम ने इस मैच में बल्लेबाज़ी और गेंदबाजी़ दोनों से कमाल करके दिखाया। करन ने गेंदबाज़ी करते हुए 3 विकेट भी अपने नाम किए थे।

PunjabKesari

धोनी ने सैम करन की मैच के बाद तारीफ भी और कहा कि करन ने शानदार खेल दिखाया। वह अभी युवा और उसमें बहुत काबिलियत है उसने पहले गेंद और बाद में बल्ले से भी टीम के लिए अहम योगदान दिया। 

PunjabKesari

गौर हो कि चेन्नई और राजस्थान के बीच खेले गए इस मैच में रिकॉर्ड 33 छक्के लगे थे। दोनों ही टीमों के बल्लेबाज़ों ने खूब रन बरसाए। इस मैच में धोनी ने भी आखिरी ओवर में तीन गगनचुंबी छक्के लगाए लेकिन चेन्नई की टीम अपने कोटे के 20 ओवरो में सिर्फ 200 रन ही बना सकी और मैच को 16 रन से हार गई।  

.
.
.
.
.