Sports

वाशिंगटन : दुनिया के नंबर एक खिलाड़ी नोवाक जोकोविच लगातार मुकाबले खेलने उतरे लेकिन इसके बावजूद उनकी टीम सर्बिया को डेविस कप फाइनल्स टेनिस टूर्नामेंट के ग्रुप चरण में शनिवार को यहां जर्मनी के खिलाफ शिकस्त झेलनी पड़ी। जेन-लेनार्ड स्ट्रुफ को हराकर सर्बिया को 1-1 से बराबरी दिलाने के तुरंत बाद जोकोविच निकोला सेसिच के साथ युगल मुकाबले में उतरे। 

टिम पुएट्ज और केविन क्राविट्ज की जोड़ी ने हालांकि कड़े मुकाबले में 7-6, 3-6, 7-6 की जीत के साथ जर्मनी को 2-1 से जीत दिला दी। सर्बिया की टीम अब भी क्वार्टर फाइनल में जगह बना सकती है। छह ग्रुप विजेता और दो उप विजेता अंतिम आठ में जगह बनाएंगे। जर्मनी की टीम ग्रुप एफ में आस्ट्रिया को हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह पक्की कर सकती है। आस्ट्रिया को सर्बिया ने हराया था। 

कोरोना वायरस पाबंदियों के कारण खाली स्टेडियम में हुए मुकाबले में डोमीनिक कोफर ने फिलिप क्राजिनोविच को 7-6, 6-4 से हराकर जर्मनी को बढ़त दिलाई लेकिन जोकोविच ने अपने 50वें डेविस कप मुकाबले में स्ट्रुफ को 6-2, 6-4 से हराकर सर्बिया को बराबरी दिला दी। संक्षिप्त ब्रेक के बाद जोकोविच युगल मुकाबले के लिए उतरे लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके। इटली ग्रुप ई में कोलंबिया को हराकर अंतिम आठ में जगह बनाने वाली पहली टीम बनी। इटली के लोरेंजो सोनेगो ने तुरिन में निकोलस मेजिया को 6-7, 6-4, 6-2 से हराया जबकि यानिक सिनर ने डेनियल इलाही गेलेन को 7-5, 6-0 से हराया। 

दुनिया के दूसरे नंबर के खिलाड़ी दानिल मेदवेदेव की मौजूदगी वाले रूस ने इक्वाडोर को हराया। मेदवेदेव ने एमिलियो गोमेज की सर्विस पांच बार तोड़कर 6-0, 6-2 से जीत दर्ज करते हुए रूस को 2-0 की निर्णायक बढ़त दिलाई। पांचवें नंबर के खिलाड़ी आंद्रे रूबलेव ने रॉबर्टो क्विरोज को 6-3, 4-6, 6-1 से हराकर रूस को विजयी शुरुआत दिलाई थी। रूबलेव और अस्लान करात्सेव की जोड़ी ने युगल मुकाबले में गोंजालो एस्कोबार और डिएगो हिडालगो को 6-4, 4-6, 6-4 से हराया। 

मैड्रिड में खेले जा रहे ग्रुप ए में रूस और गत चैंपियन स्पेन क्वार्टर फाइनल में जगह बनाने के दावेदार हैं। ये दोनों टीमें रविवार को आमने सामने होंगी। शनिवार को ब्रिटेन, आस्ट्रेलिया और कजाखस्तान भी जीत दर्ज करने में सफल रहे। ब्रिटेन ने ग्रुप सी में फ्रांस को 2-1 से हराया जबकि ग्रुप बी में स्वीडन को कजाखस्तान ने 2-1 से हराया। आस्ट्रेलिया ने ग्रुप डी में हंगरी को 2-1 से हराया। 

.
.
.
.
.