Sports

नई दिल्ली : महिला टैनिस की पूर्व नंबर एक खिलाड़ी स्टैफी ग्राफ का मानना है कि अमरीकी प्लेयर कोको गॉफ में वह सब खूबियां हैं जिस कारण वह भविष्य में नंबर वन बनने का माद्दा रखती हैं। 15 साल की कोको ने  विंबलडन 2019 के अंतिम-16 तो अमेरिकी ओपन के तीसरे दौर में पहुंचकर सबको चौकाया था। इसी महीने में वह डब्ल्यू.टी.ए. टूर के तहत अस्ट्रिया ओपन जीतने वाली सबसे यंग टैनिस प्लेयर भी बनी।

PunjabKesari

चीन में डब्ल्यू.टी.ए. झुहाई एलीट ट्रॉफी के एक इवैंट में पहुंची स्टैफी ने कहा कि उसकी शैली बहुत सहज है। मुझे लगता है कि वह जैसे खेल रहे हैं, उसे किसी सलाह की जरूरत होगी। मैं उसे अभी तक मिली नहीं हूं। लेकिन मैंने उसके खेल को टैलीविजन पर देखा है। मुझे नहीं लगता कि उसे किसी सलाह की जरूरत होगी। आप उसकी तीव्रता और अविश्वसनीय पुष्टता आगामी सालों में देख सकेंगे।

PunjabKesari
बता दें कि कोको 18 से कम उम्र होने के कारण अभी डब्ल्यू.टी.ए. के ज्यादातर टूर नहीं खेल पाएगी। दरअसल 1990 में बने कानून के तहत यंग प्लेयर की सेहत को मद्देनजर रखते हुए यह फैसला लिया गया था। इसके तहत कोको 18 मार्च 2022 को ही किसी भी फार्मेट में खेलने के लिए तैयार हो पाएगी। 

.
.
.
.
.