Sports

नॉर्वे ( निकलेश जैन ) जब पूरी दुनिया मे खेलो के उपर एक बड़ा संकट चल रहा है और शतरंज के ऑनलाइन प्रारूप को छोड़कर सभी खेल बंद है ऐसे मे विश्व के दिग्गज खिलाड़ियों के बीच चल रही 1,50,000 डॉलर पुरुष्कार राशि वाली चेसएबल मास्टर्स शतरंज मे मौजूदा विश्व चैम्पियन मेगनस कार्लसन नें अपनी खेल भावना से  दुनिया भर के प्रशंसको को दिल जीत लिया है । दरअसल हुआ कुछ यूं की चेसएबल मास्टर्स के सेमी फ़ाइनल मे उनका मुक़ाबला चीन के डिंग लीरेन से चल रहा था और बेस्ट ऑफ थ्री के इस सेमी फ़ाइनल मे पहले दिन के छह रैपिड मुक़ाबले खेले गए । पहले मुक़ाबले मे काले मोहरो से खेल रहे डिंग नें निमजों इंडियन ओपनिंग मे अपने अच्छे खेल से चालों बात बिलकुल बराबरी हासिल कर ली  और जब मैच ड्रॉ लग रहा था तभी उनका इंटरनेट संपर्क टूट गया परिणाम स्वरूप समय खत्म हो गया और वह मैच हार गए । लेकिन अगले मैच के शुरू होते ही मात्र चौंथी चाल मे मेगनस कार्लसन नें अपना वजीर लगभग मुफ्त मे देते हुए हार स्वीकार कर ली ।

PunjabKesari

दर्शको को कुछ भी समझ नहीं आया लगा की शायद यह प्रसारण की खामी है पर जब कार्लसन से इस बारे मे बात की गयी तो उन्होने जो कहा वो इस प्रकार है “ मैं डिंग की एक खिलाड़ी और इंसान के तौर पर बहुत इज्जत करता हूँ और उनके साथ इंटरनेट की वजह से हुई नाइंसाफी को ठीक करने का यही तरीका मुझे अच्छा लगा “ इस बात के पता चलते ही सभी नें कार्लसन की इस खेल भावना की तारीफ की और लोगो नें यही कहा की वह ना सिर्फ शतरंज के बल्कि खेल भावना के भी विश्व चैम्पियन है । वैसे आपको बता दे की कार्लसन नें पहले दिन के छह रैपिड के बाद – 3.5 -2.5 से जीत दर्ज करते हुए बेस्ट ऑफ थ्री मे 1-0 की बढ़त हासिल कर ली तो दूसरे दिन 2.5-0.5 से जीतकर फाइनल मे जगह बना ली है  जबकि  नीदरलैंड के अनीश गिरि और  रूस के इयान नेपोंनियची के बीच अभी स्कोर 1-1 है और अभी एक और मुक़ाबला खेला जाना बाकी है 

PunjabKesari

.
.
.
.
.