Sports

लंदन : बेन स्टोक्स को गुरुवार को इंग्लैंड की टेस्ट क्रिकेट टीम का कप्तान नियुक्त किया गया। मानसिक स्वास्थ्य कारणों से खेल से ब्रेक के बाद वापसी करने के कुछ माह के भीतर ही स्टोक्स को यह बेहद दबाव वाली जिम्मेदारी सौंपी गई है। यह आलराउंडर जो रूट की जगह लेगा जिन्होंने दो हफ्ते पहले पद छोड़ दिया था क्योंकि इंग्लैंड की टीम अपने पिछले 17 टेस्ट मैच में से सिर्फ एक में ही जीत दर्ज कर पाई थी। रूट पांच साल तक इंग्लैंड के कप्तान रहे। 

यह रॉब की का पहला बड़ा फैसला है। इंग्लैंड के पूर्व टेस्ट बल्लेबाज रॉब को हाल में इंग्लैंड में पुरुष क्रिकेट का प्रबंध निदेशक नियुक्त किया गया। उन्होंने उस समय जिम्मेदारी संभाली हैं जब राष्ट्रीय टीम मुश्किल दौर से गुजर रही है और उसके पास मुख्य कोच भी नहीं है। रॉब ने कहा कि उन्हें यकीन है कि स्टोक्स कप्तानी का बोझ उठाने के लिए तैयार है जबकि 2021 का अधिकांश समय उन्होंने क्रिकेट से दूर रहकर अपनी सेहत पर ध्यान देने और अंगुली के दो आपरेशन से उबरने में बिताया। टेस्ट कप्तान बनाए जाने का मतलब हो सकता है कि स्टोक्स को कम एकदिवसीय और टी20 अंतरराष्ट्रीय मुकाबले खेलने को मिलें। 

रॉब ने कहा कि हमें ऐसा करना होगा- हमें काम के बोझ का प्रबंधन करना होगा, हमें देखना होगा कि उसे कहां खिलाए जाने की जरूरत है। इस समय प्राथमिकता टेस्ट क्रिकेट है। मुझे नहीं लगता कि हमें इस बारे में अधिक सोच विचार करने की जरूरत है। हमें सुनिश्चित करना होगा कि वह मानसिक रूप से अच्छी स्थिति में हो और हम फिर उसे जरूरत के हिसाब से खिला सकते हैं।

स्टोक्स की नई भूमिका की घोषणा करते हुए रॉब ने कहा कि अनुभवी तेज गेंदबाज जेम्स एंडरसन और स्टुअर्ट ब्रॉड भी चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। इंग्लैंड के टेस्ट इतिहास के दो सबसे सफल गेंदबाजों एंडरसन और ब्रॉड को विवादास्पद तरीके से हाल में वेस्टइंडीज दौरे की टीम में जगह नहीं दी गई थी। इंग्लैंड की टीम इन गर्मियों में न्यूजीलैंड और दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट श्रृंखला खेलेगी और भारत के खिलाफ पांच मैचों की टेस्ट श्रृंखला का अंतिम टेस्ट भी खेलेगी जिसे पिछले साल कोविड-19 के कारण रद्द कर दिया गया था। 

भारत श्रृंखला में 2-1 से आगे चल रहा है। रॉब ने 35 साल के ब्रॉड और 39 साल के एंडरसन के संदर्भ में कहा कि इसकी घोषणा करने से पहले मैंने उन दोनों को फोन करके कहा कि मेरे हिसाब से आप दोनों चयन के लिए उपलब्ध रहेंगे। उन्होंने कहा कि मैं वादा तो नहीं कर सकता कि आप खेलोगे लेकिन आप चयन के लिए उपलब्ध रहोगे। बेन स्टोक्स इसे लेकर स्पष्ट था कि उसे टीम में जिमी और ब्रॉड चाहिए। यह पूरी तरह इस पर निर्भर करेगा कि टेस्ट मैच जीतने के लिए सर्वश्रेष्ठ एकादश क्या होगी। इसके अलावा कुछ नहीं।

रॉब ने कहा कि पुरुष टेस्ट और सीमित ओवरों की टीम के मार्गदर्शन के लिए जल्द ही नए मुख्य कोच नियुक्त किए जाएंगे। उन्होंने जोर देते हुए कहा कि एक ही व्यक्ति दोनों जिम्मेदारी नहीं निभा सकता। यह ऐसा काम बन गया है जिसे एक कोच द्वारा किया जाना लगभग असंभव हो गया है। टीम के लिए बनाए जाने वाले जैविक रूप से सुरक्षित माहौल को हटाए जाने से खिलाड़ियों और कोचिंग स्टाफ पर से मानसिक बोझ कम होने की उम्मीद है। इससे दुनिया के सर्वश्रेष्ठ क्रिकेटरों में से एक स्टोक्स की राह आसान हो सकती है। 

रॉब ने कहा कि वह (स्टोक्स) अपने आसपास के लोगों की परवाह करता है, उसे समझ है कि लोग क्यों जूझ रहे हैं, उसे समझ है कि आखिर क्यों लोग सही महसूस नहीं कर रहे। इन सारी चीजों के साथ अच्छा क्रिकेट दिमाग उसे सबसे मजबूत पसंद बनाता है। स्टोक्स ने कहा कि जब वह कप्तानी संभालेंगे तो रूट उनके महत्वपूर्ण सहयोगी बने रहेंगे। जो ने इंग्लैंड के क्रिकेट के लिए जो किया है उसके लिए और दुनिया भर में खेल का शानदार दूत बने रहने के लिए मैं उसे धन्यवाद देना चाहता हूं। ड्रेसिंग रूम में नेतृत्वकर्ता के रूप में मेरे विकास में उसने बड़ी भूमिका निभाई है। 

.
.
.
.
.