T20-world-cup-2021
Sports

नई दिल्ली : भारत के स्टार पहलवान बजरंग पूनिया ने जॉर्जिया के कोच शाको बेंटिनिडिस से अलग होने का फैसला किया है और वह बीजिंग ओलिम्पिक कांस्य पदक विजेता आंद्रेइ स्टाडनिक की सेवाएं ले सकते हैं। बेंटिनिडिस के मार्गदर्शन में बजरंग ने टोक्यो ओलिम्पिक में कांस्य पदक , 2018 एशियाई खेलों में स्वर्ण और 2019 विश्व चैम्पियनशिप में कांस्य पदक जीता था। उनके कमजोर लेग डिफेंस में हालांकि ज्यादा सुधार नहीं हुआ।

बजरंग ने कहा कि नए ओलिम्पिक चक्र के लिए मैं नए कोच की तलाश में हूं। शाको में कोई कमी नहीं है। मैंने उनसे बहुत कुछ सीखा लेकिन नए कोच के साथ बेहतर नतीजे मिल सकते हैं। भारतीय कुश्ती महासंघ के सूत्रों ने बताया कि बजरंग बेंटिनिडिस के तरीकों से खुश नहीं थे। सूत्र ने कहा कि हमें पता चला है कि टोक्यो ओलिम्पिक से पहले रूस में जब उसे चोट लगी तो शाको उस पर पूरा ध्यान नहीं दिया। यह बदलाव अपेक्षित था।

स्टाडनिक चार बार की ओलंपिक पदक विजेता और दो बार की विश्व चैम्पियन मारिया के पति हैं। समझा जाता है कि बजरंग ने उनसे संपर्क किया है और उन्होंने भी इसमें रूचि दिखाई है। सूत्र ने कहा कि आंद्रेइ उक्रेन महासंघ का चुनाव लड़ रहे हैं। वह जीतते हैं तो उनके लिये बजरंग का कोच बनना मुश्किल होगा। देखते हैं। महासंघ रूस के कोच कमल मालिकोव को भी हटा सकता है जो तोक्यो ओलंपिक रजत पदक विजेता रवि दहिया के कोच हैं।

.
.
.
.
.