Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : क्रिकेट का खेल संपूर्ण भारत को एक सूत्र में बांधने का काम करता है। यहां किसी भी चौराहे पर लोग क्रिकेट पर चर्चा करते नजर आ जाते हैं। यहा क्रिकेट प्रशंसक न सिर्फ भारतीय क्रिकेटरों का समर्थन करते हैं बल्कि अन्य देशों का प्रतिनिधित्व करने वाले क्रिकेटरों को भी भारतीय क्रिकेटरों जितना ही प्यार और समर्थन हासिल होता है। अपने चहेते क्रिकेटरों की एक झलक पाने या उनसे मिलने के लिए प्रशंसक किसी भी हद तक चले जाते हैं। इसी को लेकर ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम के कोच जस्टिन लैंगर ने बड़ा खुलासा किया है।

PunjabKesari

दरअसल ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेट टीम द्वारा अमेजन प्राइम विडियो पर जारी किए गए एक डॉक्यूमेंट्री 'द टेस्ट' में ऑस्ट्रेलियाई कोच लैंगर ने भारत में खेलने के अपने अनुभव के बारे में बताया। उन्होंने कहा कि भारत में क्रिकेटरों को बहुत प्यार मिलता है।जिसके वजह से प्रशंसक तथा खिलाड़ियों में बहुत ही नजदीकी रिश्ता कायम हो जाता है। प्रशंसकों की इस दिवानगी के कारण खिलाड़ी भी उनके साथ सहज रहते हैं। लेकिन कुछ समय के बाद यह सब आपको सताने लगता है क्योंकि भारतीय प्रशंसक क्रिकेट को इतना पसंद करते है कि वह कभी भी आपको अकेले नहीं रहने देना चाहते। इन सबसे से बचने के लिए सिर्फ एक ही जगह होती है और वह है आपका बेडरूम। उन्होंने कहा कि भारतीय प्रशंसक कई बार होटलों में ठहरे क्रिकेटरों के कमरों में नकली रूम सर्विस बताकर आतें हैं तथा सेल्फी की मांग करने लगते हैं। प्रशंसकों का खिलाड़ियों के साथ इस तरह का व्यवहार करना कई बार समझ से परे लगता है।

PunjabKesari

गौरतलब है कि अपने क्रिकेटिंग करियर में ऑस्टेलिया के लिए 105 टेस्ट मैच खेल चुके इस पूर्व सलामी बल्लेबाज ने 2018 में टीम की कोचिंग संभाली थी। उस समय ऑस्ट्रेलिया की टीम अपने सबसे बुरे दौर से गुजर रही थी। टीम के तीन सदस्य डेविड वार्नर, स्टीव स्मिथ तथा कैमरन बेनक्रॉफ्ट पर बॉल टैमपरिंग की वजह से बैन लग गया था।

.
.
.
.
.