Sports

ब्रिस्बेन: आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जोश हेजलवुड अपने करियर के 50वें टेस्ट मैच में गुलाबी गेंद से गेंदबाजी करने को लेकर काफी उत्सुक है। पाकिस्तान के खिलाफ शुक्रवार से शुरु हो रहे श्रृंखला का दूसरा मैच एडीलेड में दिन-रात्रि में गुलाबी गेंद से खेला जाएग। हेजलवुड ने कहा, ‘मुझे लगता है कि एडीलेड से मुझे सबसे ज्यादा लगाव है। मुझे वहां अच्छी सफलता मिली है। मुझे लगता है एडीलेड में गुलाबी गेंद का बर्ताव वैसा ही होता है जैसा यहां (ब्रिस्बेन का गाबा मैदान) लाल गेंद का होता है।' 

PunjabKesari
आईसीसी गेंदबाजों की रैंकिंग में 13वें स्थान पर काबिज इस खिलाड़ी ने कहा, ‘गुलाबी गेंद शायद ज्यादा देर तक स्विंग करती है और अगर आपको रात में नयी गेंद मिल जाए तो आप काफी कुछ कर सकते है मिला है। मैं इसके लिए मैदान में उतरने को उत्सुक हूं। मैं श्रीलंका के खिलाफ पिछले साल यहां खेलने से चूक गया था, इसलिए मैं गुलाबी गेंद से गेंदबाजी करने का इंतजार कर रहा हूं।' ‘एडीलेड ओवल' मैदान में 28 साल के इस तेज गेंदबाज का रिकार्ड शानदार है जहां उन्होंने चार मैचों में 20.22 की औसत से 22 विकेट लिए है। गुलाबी गेंद से उनकी गेंदबाजी और भी मारक हो जाती है जहां दिन रात्रि प्रारूप में खेले गए तीन मैचों में उन्होंने 19.44 की औसत से 18 विकेट लिए है।

.
.
.
.
.