Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: भारतीय टीम के तेज गेंदबाज आशीष नेहरा ने खुलासा करते हुए कहा कि साल 2011 विश्व कप में भारत और पाकिस्तान के सेमीफाइनल का मुकाबला था। तब मैच के टिकट फटाफट बिक गए। जिसके बाद पाकिस्तान टीम के खिलाड़ी शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर ने उस समय में मुझे टिकट दिलवाने में बहुत मदद की थी। 

PunjabKesari
दरअसल, एक पॉडकास्ट में बातचीत के दौरान नेहरा ने कहा, 'मैच से दो-तीन दिन पहले तक किसी को नहीं पता था कि सेमीफाइनल में भारत और पाकिस्तान का मुकाबला होगा। सब कुछ बहुत जल्दी में हुआ। 72 घंटे में सबको पता चल गया कि सेमीफाइनल भारत और पाकिस्तान के बीच होगा। मैंने पहले कभी ऐसा नहीं देखा था। चंडीगढ़ में बहुत ज्यादा होटल नहीं हैं। वहां माउंट व्यू होटल है और टीमें ताज होटल में ठहरी हुई थीं। मैंने देखा कि लोग अमेरिका और इंग्लैंड से मैच देखने आए थे।'

PunjabKesari
नेहरा ने आगे कहा, 'ईमानदारी से कहूं तो मैं भाग्यशाली हूं, क्योंकि मुझे अतिरिक्त टिकट्स शाहिद अफरीदी और शोएब अख्तर ने दिलवाई थी। वकार यूनुस उस समय पाकिस्तान के कोच थे। उस समय मेरे पास एक्स्ट्रा टिकट थे, जो मुझे पाकिस्तानी खिलाड़ियों से मिले थे। मेरे पास सबसे ज्यादा टिकट थे।' बता दें, इस नॉकआउट मुकाबले में मनमोहन सिंह, सोनिया गांधी, राहुल गांधी जैसी शख्सियतें आई थीं। पाकिस्तान के तत्कालीन प्रधानमंत्री यूसुफ रजा जिलानी भी मैच देखने पहुंचे थे। 

PunjabKesari
आशीष नेहरा ने करियर में 17 ही टेस्ट मैच खेले। उन्होंने इस लंबे फॉर्मेट में कुल 44 विकेट झटके। वनडे में उन्होंने 120 मैचों में कुल 157 विकेट लिए जबकि 27 टी20 इंटरनैशनल मैचों में उनके नाम 34 विकेट रहे। नेहरा ने फरवरी 1999 में श्रीलंका के खिलाफ टेस्ट से इंटरनैशनल डेब्यू किया लेकिन चोट के कारण उनका टेस्ट करियर ज्यादा लंबा नहीं रहा। उन्होंने 2004 में अपना आखिरी टेस्ट पाकिस्तान के खिलाफ रावलपिंडी में खेला।

.
.
.
.
.