Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: क्रिकेट के खिलाड़ी क्रिकेट के अलावा उनकी फॉलोइंग करोड़ों में है। दुनिया के कोने-कोने में वो एक फेमस चेहरा हैं और अपने करोड़ों फैन्स का प्यार वक्त-वक्त पर बंटौरते हैं। हालांकि आपने कई फिल्मी अभिनेत्रियों की खूबसूरती के चर्चे सुने होंगे, लेकिन हम बता दें कि इनके अलावा स्पोर्टस को होस्ट करने वालीं महिला एंकर भी इनसे कम नहीं होती। मैच के दौरान लाइव शो करते हुए ये एंकर फैन्स का ध्यान अपनी और खिंचने में हमेशा कामयाब होती हैं। तो चलिए आज हम आपको दुनिया की सबसे खूबसूरत 5 क्रिकेट एंकर के बारे में बताते है।

1.मेल मैकलॉंफिंग
PunjabKesari

मेल एक ऑस्ट्रेलियाई स्पोट्र्स एंकर हैं, जिन्होंने 2013 में नेटवर्क टेन जॉइन किया था। मेल ने ऑस्ट्रेलिया प्रीमियर ञ्ज-20 टुरनामेंट, बिग बैस लीग को हॉस्ट किया था। मेल फॉक्स स्पोट्र्स के लिए भी काम कर चुकी हैं। मेल बेहद ही खूबसूरत हैं और ग्राउंड पर ये हमेशा अपनी मौजूदगी दर्ज कराने में कामयाब रहती हैं।

2.मयंती लांगर
PunjabKesari

भारत की रहने वाली मयंती एक इंडियन टीवी स्पोट्र्स जर्नलिस्ट हैं। उन्होंने अपना करियर फीफा वल्र्ड कप को होस्ट करके शुरू किया था। इसके बाद मयंती ने क्रिकेट की तरफ अपना रूख किया। 2011 के वल्र्ड कप में चारू शर्मा के साथ इन्होंने अपनी मौजूदगी दर्ज कराई और जल्द ही फेमस हो गईं। 

3.लौरा मेकगोल्डरिक
PunjabKesari

न्यजीलैंड की लौरा मेकगोल्डरिक एक टीवी प्रजेंटर के साथ-साथ एक रेडियो जोकी भी हैं जो क्रिकेट शॉ भी होस्ट करती हैं। च्द क्रिकेट शॉज न्यजीलैंड का एक टीवी प्रोग्राम है। ये न्यजीलैंड क्रिकेटर मार्टिन गुप्टिल की बीवी हैं। शॉ के दौरान इनकी खूबसूरती के साथ-साथ इनकी क्रिकेट नॉलेज भी देखने लायक होती है।

4.एंबरिन
PunjabKesari

एंबरिन लक्स चैनल सुपरस्टार 2007 की टॉप 10 कंटेस्टेंट में शामिल थी। एंबरिन बेहद खूबसूरत एंबरिन प्रीमियर टी-20 टूर्नामेंट से सबकी चहेती बन गईं। इन्हें बांग्लादेश थर्ड प्रीमियर लीग के लिए बतौर एंकर सेलेक्ट किया गया था। एंबरिन बांग्लादेश के कई टीवी चैनल के शॉ भी होस्ट करती हुईं नजर आती हैं।

5.ईशा गुहा
PunjabKesari

पूर्व क्रिकेटर बंगाली बाला ईशा गुहा इंग्लैंड में क्रिकेट को रिप्रजेंट करती हैं। गुहा एक स्पोट्र्स वेबसाइट के लिए कॉलम भी लिखती हैं। गुहा ने 2012 में आई.टीवी चैनल में आईपीएल को प्रजेंट करने में को-प्रजेंटर की भूमिका निभाई थी।

.
.
.
.
.