Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : पाकिस्तान क्रिकेट टीम को फील्डिंग के मामले में हमेशा से संघर्ष करना पड़ा है। ऐसा ही एक वाक्य श्रीलंका के साथ खेले गए अंतिम वनडे मैच में भी देखने को मिला जिसमें एक गेंद पर जहां श्रीलंका टीम को मात्र एक रन मिना था उस पर पाकिस्तान की खराब फील्डिंग के कारण उन्हें 5 रन मिल गए। 

कराची में खेले गए वनडे मैच के दौरान जब श्रीलंका बल्लेबाजी कर रही थी तो 19वें ओवर में शादाब खान गेंदबाजी पर थे। ओवर की पांचवीं गेंद पर स्ट्राई पर खड़े दनुष्का गुणाथिलाका को गेंद डाली। ओपनर गुणाथिलाका ने बाॅल हिट किया और मिड ऑफ की तरफ एक रन के लिए गया। गुणाथिलाका और उनके पार्टनर के बीच रन को लेकर संकोच था लेकिन उन्होंने इसे पूरा किया। 

इस दौरान पाकिस्तान के खिलाड़ी इफ्तिखार अहमद ने आगे की और दौड़कर गेंद को पकड़ा और गेंद को कीपर की तरफ फेंका लेकिन विकेटकीपर बाॅल पकड़ने में नाकाम रहा और और गेंद ग्राउंड की तरफ चली गई। इसके बाद दो अन्य पाकिस्तानी खिलाड़ियों ने भी बाॅल को रोकने की कोशिश की लेकिन बाॅल बाउंड्री पार चला गया और चौका हो गया। इस तरह जहां पर एक रन मिलना था वह श्रीलंका के पाले में 5 रन आ गए। 

 

इस मिस फिल्डिंग के कारण पाकिस्तान को नुक्सान नहीं हुआ और टीम तीन मैचों की वनडे सीरीज का तीसरा मैच 5 विकेट से जीत गई और सीरीज पर 2-0 से कब्जा कर लिया। श्रीलंका ने पहले बल्लेबाजी करते हुए गुणाथिलाका के शतक की बदौलत 9 विकेट गंवाकर पाकिस्तान को 298 रनों का लक्ष्य दिया। लेकिन पाकिस्तान ने इस लक्ष्य को 48.2 ओवर में ही हासिल कर जीत प्राप्त कर ली। इस दौरान फखर जमान ने 76 जबकि उनके साथी ओपनर आबिद अली ने 74 रन बनाए। इसी के साथ ही हारिस सोहेल (56) ने भी अर्धशतकीय पारी खेलकर अपनी टीम को जीताने में मदद की। 

.
.
.
.
.