Sports

नई दिल्ली : दक्षिण अफ्रीका के पूर्व ऑलराऊंडर लांस क्लूसनर उन्हें लगातार दो क्रिकेट विश्व कप में बढिय़ा प्रदर्शन के अलावा अपने शौक के कारण भी जाना जाता है। बहुत कम लोगों को पता है कि क्लूसनर का एक नाम यूलो भी है। दरअसल, क्लूसनर जब दक्षिण अफ्रीकी टीम में खेलते थे तब वह ज्यादातर अपनी रीजनल भाषा यानी यूलो ही बोला करते थे। उनके अक्सर यूलो भाषा बोलने से कई बार दक्षिण अफ्रीका के अन्य राज्यों से आए क्रिकेटर उनकी बात समझ नहीं पाते थे। लेकिन इस कारण बाद में टीम के साथियों ने क्सूलनर का नाम भी यूलो ही रख दिया। 

Happy Birthday Lance Klusener

वहीं लांस क्लूसनर की जिंदगी का एक ऐसा मैच भी है जिसे वह सारी जिंदगी भर भूल नहीं सकेंगे। दरसअल हम बात कर रहे हैं ऑस्ट्रेलिया और दक्षिण अफ्रीका के बीच हुए 1999 के विश्व कप मैच की जिसमें दोनों टीमों ने आखिरी तक जद्दोजहद के बाद भी जीत किसी को नसीब नहीं हुई।इस मैच में दक्षिण अफ्रीका ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया था । शॉन पोलक (36/5) की शानदार गेंदबाजी के दम पर दक्षिण अफ्रीका ने ऑस्ट्रेलिया को सिर्फ 213 रन पर समेट दिया था। लग रहा था कि दक्षिण अफ्रीका इस मुकाबले को जीतकर आसानी से फाइनल में जगह बना लेगी।
 

मगर कंगारू गेंदबाजों ने लाजवाब गेंदबाजी की और दक्षिण अफ्रीका को 49.4 ओवर में 213 रन पर रोक दिया। दक्षिण अफ्रीका की ओर से आखिरी विकेट के तौर पर लांस क्लूसनर और एलन डोनाल्ड मौजूद थे। टीम को एक जीत के लिए एक रन की दरकार थी। क्लूसनर ने मिड-ऑफ की तरफ शॉट खेलकर 1 रन दौड़कर लेने की कोशिश की। मगर डोनाल्ड के पहुंचने से पहले एडम गिलक्रिस्ट ने गिल्लियां बिखेर दीं। डोनाल्ड के रन आउट होते ही ऑस्ट्रेलियाई खेमे में खुशी की लहर दौड़ गई। ऑस्ट्रेलिया ने सेमीफाइनल टाई होने के बाद बेहतर रन रेट के आधार पर फाइनल में जगह बनाई थी। तभी से क्लूसनर को बदनसीब हीरो भी पुकारा जाने लगा क्योंकि उस विश्व कप में उनका प्रदर्शन बेहद अच्छा था

Happy Birthday Lance Klusener

क्लसूनर के नाम क्रिकेट जगत में कई बड़े रिकॉर्ड है। खास तौर पर उनका एक रिकार्ड तो आज तक कोई तोड़ नहीं पाया है। यह रिकॉर्ड है- दक्षिण अफ्रीका के लिए 1 से लेकर 10 नंबर तक बल्लेबाजी करने का। क्रिकेट में ऐसा करने वाले वह दुनिया के एक मात्र खिलाड़ी हैं। उनके इलावा अभी तक किसी भी खिलाड़ी ने 1 से लेकर 10 नंबर तक बल्लेबाजी नहीं की है। हालांकि भारत के शानदार खिलाड़ी और पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने भारत के लिए 1 से 8 नंबर तक बल्लेबाजी की है। लांस क्लूजनर दक्षिण अफ्रीका के एक बेहतरीन आलराउंडर थे।

.
.
.
.
.